ताज़ा खबर
 

पठानकोट: सैन्य अड्डे के पास दो संदिग्ध बैग मिलने के बाद इलाके में हाई अलर्ट

पठानकोट में दो संदिग्ध बैग मिलने के बाद इलाके की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।
संदिग्ध बैग मिलने के बाद इलाके में बढ़ाई गई सुरक्षा। (Source: ANI)

पठानकोट में दो संदिग्ध बैग मिलने के बाद भय का माहौल बन गया जिसके बाद इलाके की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पठानकोट में गुरुवार (5 मई 2017) को सिक्योरिटी अलर्ट जारी कर दिया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक बीते बुधवार को पठानकोट में सैना के अड्डे के पास यह संदिग्ध बैग्स मिले थे जिनमें से दो मोबाइल टावर की बैट्रीयां बरामद की गई थीं। मामला मामून इलाके के पास सैन्य अड्डे का है। इस वारदात के बाद पूरे पठानकोट में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। कई इलाकों में सर्च ऑपरेशन्स भी चलाए जा रहे हैं। पुलिस ने कई इलाको की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चला रही है।

बता दें बीते बुधवार को एक लावारिस स्कॉर्पियो के मिलने से भी इलाके की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक गुरदासपुर जिले से यह कार बरामद की गई थी जिसके बाद सर्च ऑपरेशन्स चलाए गए। पुलिस इस मामले से जुड़े संदिग्धों की तलाश कर रही है। बता दें पठानकोट में इससे पहले भी एक आतंकी हमले की वारदात को अंजाम दिया जा चुका है। बीते साल पठानकोट में वायु सेना के अड्डे पर आतंकी वारदात को अंजाम दिया गया था। वहीं बीते महीने (मार्च 2017) में पठानकोट एयरबेस पर दोबारा से हमला होने की आशंका से जुड़ी खबरें भी सामने आई थीं। 2016 में एयरबेस पर हुए हमले में सुरक्षा बलों के सात कर्मी शहीद हो गए थे। इस हमले की वारदात को अंजाम देने वाले चार आतंकवादियों को मारा गिराया गया था। इसके अलावा गुरदासपुर जिले में भी 2015 में तीन आंतकियों ने दीनानगर इलाके में स्थित एक पुलिस स्टेशन पर हमला कर दिया था। इस हमले में 7 पुलिस कर्मी शहीद हो गए थे।

इसके अलावा गुरदासपुर जिले में भी 2015 में तीन आंतकियों ने दीनानगर इलाके में स्थित एक पुलिस स्टेशन पर हमला कर दिया था। इस हमले में 7 पुलिस कर्मी शहीद हो गए थे। गौरतलब है हाल ही में संसद की एक समिति ने पठानकोट वायुसेना स्टेशन पर आतंकवादी हमले के मामले की जांच अभी तक पूरी नहीं होने पर चिंता जताई थी। समिति ने सरकार से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को निर्देश देकर जांच को यथाशीघ्र पूरा करने की सिफारिश की थी।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 4, 2017 11:01 am

  1. No Comments.
सबरंग