December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

रेणुका शहाणे ने ये उदाहरण गिना कर बताया कि कैसे रंग बदलती है राज ठाकरे की पार्टी एमएनएस

रेणुका शहाणे ने पहले भी करण जौहर की मूवी 'ऐ दिल है मुश्किल' का समर्थन किया था।

बॉलीवुड एक्ट्रेस रेणुका शहाणे।

बॉलीवुड एक्ट्रेस रेणुका शहाणे ने करण जौहर की मूवी ‘ऐ दिल है मुश्किल’ को लेकर हो रही राजनीति पर निशाना साधा है। रेणुका शहाणे ने अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर एक पोस्ट लिखी है। इस पोस्ट में उन्होंने मूवी में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान को लेकर विरोध कर रही राज ठाकरे की पार्टी एमएनएस पर निशाना साधा है। उन्होंने इसमें कई ऐसे उदाहरण गिनाए हैं जब एमएनएस ने अपने रंग बदले हैं। उन्होंने बताया कि एक वक्त था, जब अमिताभ बच्चन का मनसे ने विरोध किया था, वहीं हालही में अमिताभ बच्चन के जन्मदिन पर राज ठाकरे ने खुद से बनाया हुआ उनका चित्र उन्हें भेट किया है। इसके साथ ही अमिताभ बच्चन ने राज ठाकरे के बेटे को घड़ी गिफ्ट की।

वीडियो में देखें- ऐ दिल है मुश्किल को लेकर मनसे ने क्या धमकी दी?

पोस्ट में शहाणे ने बताया, ‘साल 2008 में मुंबई में उतरी भारतीयों पर मनसे द्वारा हमला करने के बाद जया बच्चन ने कहा था, ‘कौन है राज ठाकरे?’ फिर इसी साल यूपी का ब्रांड एंबैस्डर बनने और महाराष्ट्र के जगह यूपी में लड़कियों का स्कूल खोलने पर मनसे ने अमिताभ बच्चन पर निशाना साधा था। जया बच्चन ने इस बारे में एक फिल्म के म्यूजिक लॉन्च के वक्त हिंदी में व्यंग्यात्मक टिप्पणी की थी। इसके बाद एमएनएस ने अमिताभ बच्चन की मूवी “The Last Lear” का विरोध शुरू किया था। लेकिन उसके बाद जया बच्चन को अपने बयान के लिए माफी मांगनी पड़ी थी। इसके बाद अक्टूबर 2016 में अमिताभ बच्चन को उनके जन्मदिन पर राज ठाकरे ने खुद से बनाई हुई तस्वीर भेट की। वहीं बच्चन ने राजठाकरे के बेटे को घड़ी गिफ्ट की। अमिताभ बच्चन गुजरात के ब्रांड एंबैस्डर बने। इस पर एमएनएस ने कोई विरोध नहीं किया।’

Read Also: राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद बोले मुकेश भट्ट, हमारी दिवाली अच्छी रहेगी, अब सुरक्षित महसूस कर रहा हूं

वहीं पोस्ट में लिखा है, ‘अक्टूबर 2009 में करण जौहर के धर्मा प्रोडेक्शन की मूवी वेक अप सिड में मुंबई की जगह बॉम्बे यूज करने पर एमएनएस ने विरोध किया था। इसके बाद करण ने यह कहते हुए माफी मांगी थी, ‘यह हमारी ओर से गलती हुई है। इसके बाद से हम लोग बॉम्बे की जगह मुंबई यूज करेंगे। एमएनएस ने विरोध खत्म कर दिया। फिर बॉम्बे टाइम्स छपा और अभी तक छप रहा है। लेकिन एमएनएस ने कोई विरोध नहीं किया। सितंबर 2016 में मनसे ने ‘ऐ दिल है मुश्किल’ में पाकिस्तानी अभिनेता को लेने पर विरोध शुरु किया। उन्होंने यह विरोध उरी हमले के बाद किया। लेकिन साल 2008 के 26/11 के हमले में पाकिस्तानी आतंकियों ने कई नागरिकों को मार दिया था। कई जवान शहीद हो गए थे। कई पाकिस्तानी कलाकार, सिंगर और लेखक उसके बाद आए, काम किया और चले भी गए। जनवरी 2016 में पठानकोट हमले में कई जवान शहीद हो गए। कपूर एंड सन्स रिलीज हुई और हिट भी हुई। इसमें पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान भी थे। लेकिन मनसे ने कोई विरोध नहीं किया।’

वीडियो में देखें- करण जौहर ने पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करने पर क्या कहा?

Read Also: ‘ऐ दिल है मुश्किल’ के समर्थन में आए बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो, कहा- गुंडों की पार्टी रही है MNS

पोस्ट के आखिरी में रेणुका ने लिखा है, ‘हम भारतीय नागरिक होने के नाते अपने मतभेदों को एक तरफ रखकर भारत को कला और खेल से ऊपर रख सकते हैं, लेकिन क्या हमारे नेता भारत को राजनीति से ऊपर रख रखते हैं। मुझे ऐसा नहीं लगता। मुझे नहीं लगता कि जो वे उपदेश देते हैं, वे खुद उन पर अमल करते हैं।’

Read Also: ‘ऐ दिल है मुश्किल’ में आपको देखने को मिलेंगी ये रोमांटिक लोकेशन, देखें PHOTOS

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 20, 2016 6:32 pm

सबरंग