ताज़ा खबर
 

आंध्र प्रदेश में लू का कहर जारी, अब तक 852 लोगों की मौत

देश भर में लू की स्थिति बने रहने के साथ आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में लू का प्रकोप जारी है। अकेले आंध्र प्रदेश में लू से अब तक 852 लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में गर्मी से लोग बेहाल रहे। इसके साथ ही महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश, ओड़िशा और पश्चिम बंगाल जैसे दूसरे राज्य भी प्रचंड गर्मी से जूझते रहे। इनमें से अधिकतर राज्यों में अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा।
Author May 27, 2015 11:13 am
लू का कहर जारी, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में अब तक करीब 1100 लोगों की मौत

देश भर में लू की स्थिति बने रहने के साथ आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में लू का प्रकोप जारी है। अकेले आंध्र प्रदेश में लू से अब तक 852 लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में गर्मी से लोग बेहाल रहे। इसके साथ ही महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश, ओड़िशा और पश्चिम बंगाल जैसे दूसरे राज्य भी प्रचंड गर्मी से जूझते रहे। इनमें से अधिकतर राज्यों में अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा।

निजी मौसम पूर्वानुमान एजंसी स्काईमेट के मुताबिक ओड़िशा के अंगुल में अधिकतम तापमान 47 डिग्री दर्ज किया गया जबकि महाराष्ट्र के चंद्रपुर और वर्धा में यह क्रमश: 46.6 और 46.5 डिग्री सेल्सियस रहा। दिल्ली में अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

तेज गर्मी और लू की वजह से आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले में सबसे अधिक 202 लोग मारे गए हैं। राज्य की विशेष आपदा प्रबंधन आयुक्त तुलसी रानी ने बताया कि मंगलवार शाम तक उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक गुंटूर जिले में 130, विशाखापत्तनम में 112, विजयनगरम में 78 और नेल्लौर में 74 लोग मारे गए हैं। वहीं पूर्व गोदावरी में 90, पश्चिम गोदावरी में 10, कृष्णा में 49, चित्तूर में 29, कपाडा में 22, कुर्नूल में 17, अनंतपुर में 14 और श्रीकाकुलम में 25 लोग मारे गए हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक आंध्र प्रदेश के विजयनगरम, विशाखापत्तनम, पूर्वी गोदावरी, पश्चिम गोदावरी, कृष्णा, गुंटूर, प्रकाशम और नेल्लौर जिलों के कई हिस्सों में मंगलवार को भी लू चलती रही। मौसम विभाग ने कहा कि रॉयलसीमा के कर्नूल और चित्तूर जिलों के कुछ हिस्सों में लू की स्थितियां बनी रहेंगी।

आंध्र प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और गृह मंत्री एन चिन्न राजप्पा ने मंगलवार को कहा कि सरकार पहले ही राज्य में लू से प्रभावित लोगों को चिकित्सीय मदद उपलब्ध कराने के लिए डॉक्टरों को सजग कर चुकी है।

देश के दक्षिणी हिस्से में गर्मी से कुछ राहत मिल सकती है क्योंकि अगले दो दिन में वहां गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है जिससे पारा कुछ नीचे गिरेगा। वहीं दूसरी तरफ कश्मीर घाटी में मौसम सुहाना है। वहां अधिकतम तापमान करीब 22 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

राजस्थान के कई हिस्सों में लू के कारण आम जनजीवन प्रभावित रहा। राज्य में 45.8 डिग्री सेल्सियस के अधिकतम तापमान के साथ कोटा सबसे गर्म जगह रहा। इसके बाद जयपुर में सबसे ज्यादा 44.7, जैसलमेर में 44.2, बाड़मेर में 43.8, बीकानेर में 43.2, जोधपुर में 42.2 और श्रीगंगानगर में 41.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने राज्य में अगले 24 घंटों में गर्मी से कोई राहत नहीं मिलने की बात कही है।

उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में भी लू की स्थिति बनी रही। राज्य में 46.4 डिग्री सेल्सियस के अधिकतम तापमान के साथ इलाहाबाद सबसे गर्म जगह रहा। मौसम विभाग ने कहा है कि 28 और 29 मई को राज्य में मौसम शुष्क बना रहेगा। पिछले एक हफ्ते से हरियाणा और पंजाब में लू की स्थिति बनी हुई है। सोमवार को भी अधिकतर जगहों पर अधिकतम तापमान 41 से 45 डिग्री सेल्सियस के बीच बना रहा।

चंडीगढ़, हिसार, करनाल, भिवानी, अमृतसर, लुधियाना और पटियाला समेत दूसरी जगहों पर भी गर्मी का प्रकोप जारी रहा। स्थानीय मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो दिन तक यहां लोगों को गर्मी से कोई राहत नहीं मिलेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.