December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

RBI की लोगों से अपील- पैसा निकालकर घर में जमा ना करें

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने लोगों ने अपनी की है कि बार-बार पैसा निकालकर घर पर जमा ना करें।

भारतीय रिज़र्व बैंक (रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया)

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने लोगों ने अपील की है कि बार-बार पैसा निकालकर घर में जमा ना करें। RBI ने कहा है कि उनके पास सभी लोगों के लिए पर्याप्त पैसा है। लोगों से बैंकों के बाहर भीड़ ना लगाने के लिए भी कहा गया। अपने ट्विटर हैंडल के जरिए RBI ने लिखा, ‘पैसे निकालकर घर पर ना रखें। बैंक के पास बहुत सारी छोटी करेंसी है।’ गौरतलब है कि सरकार ने काले धन पर लगाम लगाने के लिए मंगलवार को बड़ा फैसला लेते हुए 500 और 1000 रुपए के नोट पर रोक लगा दी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया अब 500 और 2000 के नए नोट जारी कर दिए हैं। मंगलवार को पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संदेश में कहा था कि नए नोट जल्द से जल्द सरकुलेट कर दिए जाएंगे। हालांकि ऑनलाइन पेमेंट, डेबिट, क्रेडिट और डिमांड ड्राफ्ट से भुगतान जारी है लेकिन फिर भी बैंकों और एटीम पर लगी लंबी लाइनें खत्म होने का नाम नहीं ले रहीं। लोग पैसे निकलवाने, नोट बदलवाने के लिए लंबी-लंबी लाइन लगाकर खड़े हैं। सुबह हो या रात बैंकों की लाइन खत्म होने का नाम नहीं ले रही। एटीएम में कब पैसा आता है और कब खत्म हो जाता है इसका कोई हिसाब नहीं है।

मोदी ने जापान दौरे पर रविवार को भी 500-1000 के मुद्दे को छेड़ा था।जापान में भारतीय समुदाय के लोगों के बीच अपने 26 मिनट के भाषण में पीएम मोदी ने काले धन के खिलाफ 31 दिसंबर के बाद भी कार्रवाई करने का संदेश दिया। मोदी ने कहा, ‘कुछ लोग सोचते हैं कि 30 दिसंबर के बाद कोई कार्रवाई नहीं होगी। तो आज में ऐलान करना चाहूंगा कि ये स्कीम पूरी होने के बाद कोई दूसरा आपको ठिकाने लगाने के लिए नहीं आएगा इसकी गारंटी मैं नहीं लेता। मैं इस बात को स्पष्ट मानता हूं कि बिना हिसाब के अगर कुछ भी आया हाथ, तो उसका देश जब से आजाद हुआ, उसका हिसाब चेक करने वाला हूं।’

इसके अलावा 500 और 1,000 के नोट बंद करने की घोषणा पर उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने यह अचानक नहीं किया। उन्होंने कहा कि सरकार इससे पहले कालेधन की घोषणा की योजना लेकर आई थी। पहले चरण में इसके तहत 67,000 करोड़ रुपए की घोषणा की गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 13, 2016 11:58 am

सबरंग