ताज़ा खबर
 

जेएनयू विवाद: राहुल पर बरसे रामदेव, कहा- देशद्रोहियों का समर्थन करना भी गद्दारी है

रामदेव ने राजनीतिक दलों से देश की एकता के खातिर वोटबैंक की राजनीति से ऊपर उठने की अपील की।
Author अहमदाबाद | February 18, 2016 18:27 pm
योगगुरु बाबा रामदेव। (फाइल फोटो)

जेएनयू विवाद एवं विद्यार्थियों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के रुख को लेकर उनपर प्रहार करते हुए योगगुरु बाबा रामदेव ने गुरुवार (18 फरवरी) को कहा कि देशद्रोहियों के साथ मित्रता भी गद्दारी के समान है। रामदेव ने सरकार से असली देशद्रोहियों की पहचान करने का आह्वान किया ताकि निर्दोष लोग दंडित नहीं हों। उन्होंने राजनीतिक दलों से देश की एकता के खातिर वोटबैंक की राजनीति से ऊपर उठने की अपील की।

उनसे जब इस मुद्दे पर राहुल गांधी के रुख के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘देश के गद्दारों के साथ मित्रता भी गद्दारी समझी जाती है। कानून की नजर में राष्ट्रविरोधी तत्वों का समर्थन करना भी अपराध है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस स्थिति में राजनीतिक दलों को देश की एकता एवं शांति के लिए वोटबैंक की राजनीति से ऊपर उठना चाहिए।’’

जेएनयूएसयू अध्यक्ष कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी पर रामदेव ने कहा, ‘‘हमें उन लोगों का समर्थन नहीं करना चाहिए जिनकी विध्वंसात्मक मानसिकता है और जो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर भारत विरोधी नारे लगा रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसी के साथ असली राष्ट्रविरोधी तत्वों की पहचान करना और उन्हें दंडित करना सरकार का कर्तव्य है ताकि निर्दोष लोग बख्शे जा सकें।’’

राहुल गांधी ने सरकार पर करारा प्रहार करते हुए कहा था कि जेएनयू विवाद और पटियाला हाउस अदालत में हिंसा भारत की छवि पर दाग है और इस बात पर बल दिया कि राष्ट्रवाद तो उनके खून में है। उन्होंने यह भी कहा कि आरएसएस ‘त्रुटिपूर्ण’ और ‘मृत ’ विचारधारा देश के विद्यार्थियों पर थोपने की कोशिश कर रही है और उनकी पार्टी ऐसा नहीं होने देगी। उन्होंने इस संबंध में गुरुवार (18 फरवरी) को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को एक ज्ञापन भी सौंपा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.