ताज़ा खबर
 

अमेरिका जाकर डोनाल्ड ट्रम्प से मिलना चाहते हैं रामदास अठावले, कहा- वह रिपब्लिकन हैं, मैं भी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया का प्रमुख हूं

राम दास अठावले ने अमेरिका जाकर वहां के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने की इच्छा जाहिर की है।
रामदास अठावले अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप से मिलना चाहते हैं।

राम दास अठावले ने अमेरिका जाकर वहां के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने की इच्छा जाहिर की है। अठावले को अप्रैल के दूसरे हफ्ते में यूएस जाना है। वहां पर अठावले को यूएन के एक कार्यक्रम में बोलने के लिए बुलाया गया है। अठावले वहां पर भीम राव अंबेडकर के 126वीं जन्मदिन के मौके पर अपने विचार रखेंगे। अठावले चाहते हैं कि उसी ट्रिप के दौरान उनकी मुलाकात डोनाल्ड ट्रंप से भी हो जाए। यूएस का राष्ट्रपति भारत के सांसद से क्यों मिलेंगे? अठावले के पास इस सवाल का भी जवाब है। उन्होंने कहा कि ट्रंप रिपब्लिकन पार्टी से हैं और वह रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के प्रमुख हैं इससे उन दोनों के बीच एक मीटिंग जरूर होनी चाहिए।

डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले साल अमेरिका के राष्ट्रपति पद का चुनाव जीता। उन्होंने डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन को हराया था। हिलेरी बराक ओबामा का समर्थन मिलने के बावजूद नहीं जीत सकीं। ट्रंप ने इस साल राष्ट्रपति पद की शपथ ली है। वह मुसलमानों और शरणार्थियों के खिलाफ दिए गए बयानों के बल पर जीते थे। भारत में भी कई हिंदू संगठन उनको अपना ‘नेता’ मानते हैं।

राम दास अठावले भाजपा की सहयोगी पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के अध्‍यक्ष हैं। वह राज्‍यसभा सांसद और सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय में राज्य मंत्री हैं। अठावले अपने बयानों को लेकर पहले भी चर्चा में रहे हैं।

आरक्षण, कश्मीर, गौमांस पर वह अपनी राय रखते रहे हैं। बीफ के मुद्दे पर तो वह भाजपा सांसद उदित राज से भी भीड़ गए थे। तब दलित नेता उदित राज ने बीफ खाने का समर्थन करने के लिए सबसे तेज धावक उसैन बोल्‍ट का जिक्र किया था। उसपर अठावले ने कहा था कि वह तो बीफ नहीं खाते लेकिन मंत्री बन गए।

 

डोनाल्ड ट्रंप ने कंसास में मारे गए भारतीय की मौत की निंदा की; US कांग्रेस को संबोधित करते हुए कहा- "बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन"

कांग्रेस नेता का विवादित बयान- "माहवारी में अपवित्र होती हैं महिलाएं, पूजा घर, मस्जिद में न जाएं"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.