ताज़ा खबर
 

केन्‍द्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा- जो है हमारा सिर, पाकिस्‍तान वहां चला रहा है तीर लेकिन नहीं झुकेगा कश्‍मीर

गृहमंत्री राजनाथ ने राष्‍ट्र-विरोधी नारेबाजी पर सरकार द्वारा सख्‍त रुख अपनाए जाने का भरोसा दिया।
Author नई दिल्‍ली | August 10, 2016 20:18 pm
कश्‍मीर में पेलेट गन के इस्‍तेमाल के खिलाफ सांकेतिक विरोध जताते डॉक्‍टर। (Source: Twitter)

कश्‍मीर हिंसा पर बुधवार को संसद के ऊपरी सदन में चर्चा हुई। चर्चा में हिस्‍सा लेते हुए केन्‍द्रीय मंत्री रामदास अठावले ने राज्‍य सभा में कविता सुनाकर अपने भाषण की शुरुआत की। उन्‍होंने कहा, ”जो है हमारा शरीर, कश्‍मीर है उसका सिर, और पाकिस्‍तान वहां चला रहा है तीर लेकिन नहीं झुकेगा कश्‍मीर। कश्‍मीर कब तक जलता रहेगा, प‍ाकिस्‍तान में आतंकवाद कब तक पलता रहेगा। मैं तीन बार पाकिस्‍तान गया हूं। वहां की जनता भारत के खिलाफ नहीं है। जब कश्‍मीर आजाद हुआ तो पाकिस्‍तान ने हमला किया, क्‍या जरूरत थी पाकिस्‍तान को हमला करने की। कश्‍मीर ने भारत के साथ रहने का फैसला किया। हम कश्‍मीर को पाकिस्‍तान के हाथ जाने नहीं देंगे। हमारे सिर को हम कटने नहीं देंगे। कश्‍मीर के जवानों को मैं कहना चाहता हूं कि तुम्‍हारे साथ अत्‍याचार हुआ है। रोज दलितों पर हमले होते हैं, मगर हमने दलिस्‍तान नहीं मांगा। धर्म, भाषा, जाति से बड़ा है देश। जो भारत को तोड़ने की कोशिश करेगा, उसका सत्‍यानाश होगा।”

इससे पहले, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राज्‍य सभा में आकर कश्‍मीर हिंसा पर सरकार द्वारा की गई कार्रवाई से सदन को अवगत कराया। उन्‍होंने अपने वक्‍तव्‍य में कहा- ”जब मैं 23 व 24 जुलाई को श्रीनगर और अनंतनाग गया था तो कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा के लिए कई प्रतिनिधिमंडलों और मुख्‍यमंत्री से मिला। मुझे यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि कश्‍मीर में जो कुछ भी हो रहा है, उसके पीछे पाकिस्‍तान का हाथ है। मैं यह नहीं कह रहा कि कश्‍मीर में रह रहे लोग सामान्‍य जिंदगी जी रहे हैं, लेकिन राज्‍य सरकार मूल सुविधाएं मुहैया कराने की भरसक कोशि श कर रही है। कश्‍मीर क्षेत्र में पत्‍थरबाजी के चलते 100 एम्‍बुलेंस क्षतिग्रस्‍त हो गई हैं, इसके बावजूद 400 से ज्‍यादा एम्‍बुलेंस अभी तक ऑपरेट कर रही हैं।” राजनाथ ने सुरक्षा बलों द्वारा पैलेट गन के प्रयाेग पर सदन को आश्‍वस्‍त करते हुए कहा, ”सु‍रक्षा बलों को कम से कम बलप्रयोग करने के निर्देश दिए हैं। मैं घातक हथ‍ियारों के प्रयोग को जायज ठहराने की कोशिश नहीं कर रहा हूं, मगर वहां ये हथियार पहले भी प्रयोग होते रहे हैं।”

सुनिए अठावले का पूरा भाषण: 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    Mahendra Sharma
    Aug 19, 2016 at 1:28 pm
    Bjp ke jitnay bhi mantri aur santri hain.yahan tak ki.pradhan mantri bhi.sab logon ko sher aur sayari bolne me kuch jyada hi jankari ho gai hai.magar desh chalane ki koi jankari nahi hai.desh me itni mahengai to pichle 66,sasl me bhi nahi .mafar bjp ki sarkar me taarey hi mahengai.ke share record Tut e sab baton par parda samne ke liay BJP koi dusra hi raag alap rahi hai.aisa hi raha to 2019 duur nahi hai.haan khurchi jaruuuur dur ho jayegi.tabhi khub shayri bolna to achcha lagega.
    Reply
  2. M
    Mahendra Sharma
    Aug 19, 2016 at 1:31 pm
    Jabhi bhi BJP satta haregi.tab inko khub dusron ki karni aur kathni me farak nazer ayegi.abhi to inki karni ko nazer andazi ho rahi hai.Baad me koi dusra channel bjp ki kartey Rosanne lane ka kaam karegi.
    Reply
  3. M
    Mahendra Sharma
    Aug 19, 2016 at 12:58 pm
    Ramdas athawale,ek Sher tadi jara,kashmir me sahid hone wale jabanjo ke liaye bhi kahe hotay to,kitna achcha hota.s shirf badi badi fekne walon ke sath rage kar ,tum bhi fekne jaisi Kavita mat feko.l lagta hai ki sattadhari party ko kuch jyada hi fekne ki adat ho gai hai. For example""jaise modi""vaise hi Cheri.
    Reply
सबरंग