ताज़ा खबर
 

केंद्रीय खेल मंत्री ने इशारों-इशारों में राहुल गांधी को बताया ‘नशेड़ी’, लोगों ने कहा- आप ट्रोल नहीं हो

खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने एएनआई के रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्विटर पर लिखा, ‘खेलों में इस डोपिंग करार दिया जाता।’ उन्होंने आगे लिखा, ‘रुकिए रुकिए डोपिंग से आपको कुछ याद आया।’
राज्यवर्धन सिंह राठौड़ और राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के कई ट्वीट्स कजाकिस्तान, रूस और इंडोनेशिया के लोकेशन से रिट्वीट हो जाने के बाद सोशल मीडिया का एक धड़ा इसका मजाक बना रहा है। बीजेपी के भी कई नेता ट्विटर पर अचानक से बढ़ी राहुल गांधी की लोकप्रियता पर सवाल खड़ा कर रहे हैं। इसी बीच समाचार एजेंसी एएनआई ने एक रिपोर्ट जारी करते हुए आशंका जताई थी कि राहुल के ट्वीट्स के इतने ज्यादा रिट्वीट्स होने की पीछे बॉट्स हो सकता है, जिस पर खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने ट्वीट कर इसकी तुलना डोपिंग से की है। राठौड़ ने ट्वीट कर कहा है कि राजनीति में सोशल मीडिया पर लोकप्रिय होने के लिए नेताओं द्वारा बॉट्स का इस्तेमाल करना वैसा ही है जैसा खेल में खिलाड़ियों द्वारा अपने प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए प्रतिबंधित पदार्थ का इस्तेमाल करना।

खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने एएनआई के रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्विटर पर लिखा, ‘खेलों में इस डोपिंग करार दिया जाता।’ उन्होंने आगे लिखा, ‘रुकिए रुकिए डोपिंग से आपको कुछ याद आया।’ इस ट्वीट के बाद यूजर्स ने राठौड़ से कहा कि वह ट्रोल नहीं हैं। बॉट्स दरअसल ऐसे कम्प्यूटर एपलीकेशन या सॉफ्टवेयर हैं जो ऑटोमैटिक ढंग से बताये गये टास्क को पूरा करते हैं। राहुल के ट्वीट्स को रिट्वीट करने में बॉट्स की भूमिका की आशंका इसलिए भी जताई जा रही है क्योंकि उनके कई ट्वीट्स कजाकिस्तान, रूस और इंडोनेशिया के लोकेशन से रिट्वीट हुए हैं।

वहीं इस मामले पर केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है। ईरानी ने कहा है कि लगता है राहुल गांधी अब कजाकिस्तान, रूस, इंडोनेशिया में चुनाव जीतने की तैयारी कर रहे हैं। स्मृति ने लिखा, ‘शायद ऑफिस ऑफ आरजी रूस, इंडोनेशिया और कजाकिस्तान में चुनाव जीतने की तैयारी कर रहे है।’ उन्होंने ट्वीट के साथ एक खबर टैग की। टैग की गई खबर के मुताबिक 15 अक्तूबर को ऑफिस ऑफ आरजी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट बाकी को रीट्वीट किया था जिसमें अमेरिकी पाकिस्तानी संबंधों की सराहना की गई थी।

बता दें कि राहुल गांधी ने ट्वीट किया था, ‘मोदीजी, जल्दी करिए, ऐसा लगता है कि राष्ट्रपति ट्रंप एक और झप्पी चाहते हैं।’ यह ट्वीट जल्द ही 20 हजार बार रीट्वीट किया गया। इस पर कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य राजीव शुक्ला ने कहा कि सोशल मीडिया पूरे विश्व को जोड़ता है और रूस, कजाकस्तान और इंडोनेशिया से होने वाले रीट्वीट को अचरज के तौर पर नहीं लिया जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.