ताज़ा खबर
 

राज्यसभा चुनाव: यूपी में प्रीति महापात्रा की एंट्री से सबसे ज्यादा खतरा कपिल सिब्बल को

कांग्रेस ने कपिल सिब्बल को अपना उम्मीदवार बनाया है और उसके पास केवल 29 वोट हैं। ऐसे में सिब्बल को जीत के लिए पांच और वोटों की जरूरत पड़ेगी।
यूपी में राज्यसभा चुनाव में उतरीं स्वतंत्र उम्मीदवार प्रीति महापात्रा। (Photo Soource: Facebook)

उत्तरप्रदेश में राज्यसभा चुनाव के लिए प्रीति महापात्रा की एंट्री कांग्रेस उम्मीदवार कपिल सिब्बल के लिए खतरा बन सकती है। कुछ भाजपा और स्वतंत्र विधायकों के समर्थन से चुनाव में उतरी हैं प्रीति सिब्बल के साथ ही बाकी पार्टियों के लिए भी मुसिबत खड़ी कर सकती है। कांग्रेस ने कपिल सिब्बल को अपना उम्मीदवार बनाया है। कांग्रेस के पास यूपी में केवल 29 वोट हैं। सिब्बल को जीतने के लिए 34 वोटों की चाहिए है। ऐसे में उन्हें जीत के लिए पांच वोटों की जरूरत होगी। प्रीति के चुनाव में कूदने से उन्हें ये पांच वोट मिलते मुश्किल नजर आ रहे हैं।

Read Also: क्‍यों गुजरात से आकर यूपी में राज्‍यसभा चुनाव लड़ रही हैं मोदी समर्थक प्रीति महापात्रा, जानिए

यूपी में राज्यसभा की 11 सीटों के लिए 12 उम्मीदवार मैदान में हैं। समाजवादी पार्टी ने सात, बसपा ने दो, कांग्रेस और भाजपा ने एक-एक उम्मीदवार उतारा है। इनके साथ ही निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में प्रीति महापात्रा हैं।

Read Also: 11 जून को कैसे होगा राज्यसभा के 57 सांसदों का चुनाव, जानिए

समाजवादी पार्टी की बात करें तो उसके पास विधानसभा में 229 वोट हैं, लेकिन उसे अपने सातों उम्मीदवारों को जीताने के लिए 238 वोटों की जरूरत है। लेकिन समाजवादी पार्टी पीस पार्टी के अनीसुर्रहमान और मलिक कमाल यूसुफ और कुछ अन्य नेताओं के वोट हासिल कर लेगी। ऐसे में उसके सातों उम्मीदवारों की जीत में मुश्किल नजर नहीं आ रही है। 41 वोट रखने वाली पार्टी भाजपा ने शिव प्रताप शुक्ला को अपना उम्मीदवार बनाया है। 34 वोटों के बाद भाजपा के पास बचते हैं बाकी के सात वोट। लेकिन भाजपा का कहना है कि वह अपने बचे वोट सपा, बसपा और कांग्रेस को नहीं देगी। इससे साफ है कि भाजपा के बाकी बचे वोट प्रीति के खाते में जाएंगे।

बहुजन समाज पार्टी ने अपने दो उम्मीदवार चुनाव में हैं। लेकिन बसपा के पास अपने दोनों उम्मीदवारों को जीताने के लिए वोट हैं।

Read Also: राज्‍य सभा चुनाव का पूरा गणित समझने के लिए यहां क्लिक करें 

राज्यसभा चुनाव से संबंधित खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. G
    Giranth Singh
    Jun 2, 2016 at 5:19 am
    -मनुष्य कितना मूर्ख है |प्रार्थना करते समय समझता है कि भगवान सब सुन रहा है,पर निंदा करते हुए ये भूल जाता है।पुण्य करते समय यह समझता है कि भगवान देख रहा है,पर पाप करते समय ये भूल जाता है।दान करते हुए यह समझता है कि भगवान सब में बसता है,पर चोरी करते हुए ये भूल जाता है।प्रेम करते हुए यह समझता है कि पूरी दुनिया भगवान ने बनाई है,पर नफरत करते हुए ये भूल जाता है।.........और हम कहते हैं कि मनुष्य सबसे बुद्धिमान प्राणी है।क़दर किरदार की होती है,वरना...कद में तो साया भीइंसान से बड़ा हो.ता है-
    (1)(0)
    Reply
    1. G
      Giranth Singh
      Jun 2, 2016 at 5:18 am
      .-मनुष्य कितना मूर्ख है |प्रार्थना करते समय समझता है कि भगवान सब सुन रहा है,पर निंदा करते हुए ये भूल जाता है।पुण्य करते समय यह समझता है कि भगवान देख रहा है,पर पाप करते समय ये भूल जाता है।दान करते हुए यह समझता है कि भगवान सब में बसता है,पर चोरी करते हुए ये भूल जाता है।प्रेम करते हुए यह समझता है कि पूरी दुनिया भगवान ने बनाई है,पर नफरत करते हुए ये भूल जाता है।.........और हम कहते हैं कि मनुष्य सबसे बुद्धिमान प्राणी है।क़दर किरदार की होती है,वरना...कद में तो साया भीइंसान से बड़ा हो.ता है-
      (1)(0)
      Reply
      सबरंग