ताज़ा खबर
 

राजनाथ सिंह का PAK को जवाब, हम किसी को छेड़ेंगे नहीं, अगर कोई हमे छेड़ेगा तो उसे छोड़ेंगे नहीं

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान और उसकी हुकूमत को कड़ा संदेश देते हुए कहा कि हमने अपनी ताकत पिछले दिनों साबित कर दी और पूरी दुनिया को यह संदेश दिया है कि भारत एक मजबूत देश है।
Author नई दिल्ली | October 11, 2016 15:15 pm
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह। (PTI)

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान और उसकी हुकूमत को कड़ा संदेश दिया है। गृह मंत्री ने कहा कि हम मानते हैं कि हम किसी को छेड़ेंगे नहीं, पर अगर हमको कोई छेड़ेगा तो हम उसको छोड़ेंगे नहीं। उन्होंने आगे कहा कि हमने अपनी ताकत पिछले दिनों साबित कर दी और पूरी दुनिया को यह संदेश दिया है कि भारत एक मजबूत देश है। गृह मंत्री के इस बयान को उरी हमले पर पाकिस्तान को दिए गए कड़े संदेश के रूप में देखा जा रहा है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से भारत-पाकिस्तान के बीच जुबानी जंग जारी है और दोनों देशों के रिश्तों में तनाव बढ़ता जा रहा है। इससे पहले शनिवार को राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर देश पर हमला किया गया तो गोलियां नहीं गिनी जाएगी। हम कभी पहले गोली नहीं चलाते लेकिन यदि हम पर हमला हुआ तो पलटवार में ट्रिगर दबाने के बाद हम कभी गोलियां नहीं गिनते।

वीडियो: मोहन भागवत बोले- गिलगिट-बाल्टिस्तान समेत पूरा कश्मीर हमारा है

सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने आतंकी बुरहान वानी को फिर से शहीद बताया था और कश्मीरियों के संघर्ष का समर्थन किया था। शरीफ ने कहा था कि दुनिया में कोई ऐसी ताकत नहीं है जो पाकिस्तान को कश्मीरियों के संघर्ष का समर्थन करने से रोक सके। बुरहान वानी को हीरो बताते हुए शरीफ ने कहा कि घाटी (कश्मीर) की स्थिति के कारण ही दोनों न्यूक्लियर देशों के बीच एलओसी पर तनाव है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सरकार आतंकवाद समेत सभी चुनौतियों पर काबू करने का प्रयास कर रही है। इससे पहले वह यूएन में भी बुरहान वानी को शहीद बता चुके हैं।

READ ALSO: नवाज शरीफ बोले- धरती पर ऐसी कोई ताकत नहीं जो PAK को कश्मीरियों का साथ देने से रोक सके

गौरतलब है कि 18 सितंबर को जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना मुख्यालय पर आतंकियों ने हमला किया था। हमले में 18 जवान शहीद हो गए थे, बाद में दो जवानों की और मौत हो गई थी। इस हमले का बदला लेते हुए भारतीय सेना की ओर से 28-29 सितंबर को एलओसी के पार सर्जिकल स्ट्राइक किया गया था। सर्जिकल स्ट्राइक में सेना ने आतंकियों के 7-8 कैंपों को नष्ट कर दिया था और कई आतंकियों को मार गिराया था। आतंकियों को बचाने में पाकिस्तानी सेना के दो जवान भी मारे गए थे।

READ ALSO: राजनाथ सिंह ने बीएसएफ से कहा- हमला होने पर ट्रिगर दबाने के बाद हम गोलियां नहीं गिनते

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग