ताज़ा खबर
 

किसी भी सूरत में देश का मस्तक झुकने नहीं देंगे : राजनाथ

पड़ोसी पाकिस्तान के साथ रिश्ते बेहतर करने की तमाम कोशिशें की गईं, लेकिन बेकार गईं। केंद्र की भाजपा सरकार कमजोर नहीं है और देश का मस्तक किसी भी सूरत में झुकने नहीं देगी।
Author लखनऊ | October 11, 2016 03:33 am
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह। (पीटीआई फाइल फोटो)

पाक अधिकृत कश्मीर में भारतीय सेना के सर्जिकल हमले के परिप्रेक्ष्य में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को यहां कहा कि पड़ोसी पाकिस्तान के साथ रिश्ते बेहतर करने की तमाम कोशिशें की गईं, लेकिन बेकार गईं। साथ ही दृढ़ता के साथ कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार कमजोर नहीं है और देश का मस्तक किसी भी सूरत में झुकने नहीं देगी। राजनाथ ने यहां कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी कहते थे कि पड़ोसी मुल्कों के साथ रिश्ते बेहतर होने चाहिए। हमने पड़ोसी से रिश्ते बेहतर करने के लिए पूरी ताकत लगा दी। वे कहते थे कि दोस्त बदले जा सकते हैं लेकिन पड़ोसी नहीं। उन्होंने कहा, मगर इसके एवज में पाकिस्तान ने करगिल पर हमला किया। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कितनी कोशिशें कीं। प्रधानमंत्री पद की शपथ लेते समय भी सभी पड़ोसी देशों के राष्ट्राध्यक्षों को आमंत्रित किया। पाकिस्तान भी गए। हमने रिश्ते मजबूत करने की कोशिश की।

राजनाथ ने कहा कि पाकिस्तान ऐसा नहीं चाहता था। उसके बाद जो कुछ हुआ, जिस तरीके से हमारे जवानों पर कायराना हमला आतंकियों ने किया। उन्हें शहीद होना पड़ा…लेकिन यकीन रखिए। आपने देख लिया है कि हमारी सरकार कमजोर सरकार नहीं है। उन्होंने कहा कि अभी वे राजस्थान के सीमावर्ती जैसलमेर और बाडमेर में निरीक्षण के लिए गए। मैंने जवानों से साफ कह दिया कि पहली गोली अपनी ओर से नहीं चलनी चाहिए। अगर उधर से चल जाए तो क्या करना है आपने अखबारों में पढ़ लिया है। यकीन रखिए भारत के मान-सम्मान और स्वाभिमान पर किसी भी सूरत में आंच नहीं आने देंगे। मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए राजनाथ ने कहा कि अब तक सब्सिडी, बच्चे की छात्रवृत्ति और विधवा पेंशन के लिए भटकना पड़ता था। आपको स्वयं पैरवी करनी पड़ती थी। कुछ खर्च भी करना पडता था। लेकिन अब कहीं जाने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा, एकाउंट डाइरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए अब धन सीधे बैंक में पहुंचेगा। अब तक जितना किया है आपको आश्चर्य होगा कि तीन हजार करोड़ रुपए की बचत सरकार की हुई है। डाइरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए 61 हजार करोड रुपए से ज्यादा पैसा पहुंचाया है।

राजनाथ ने बताया कि आने वाले तीन चार साल में सबको डाइरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर योजना के तहत लाया जाएगा। 70 वर्षों में जो गड़बड़ हुई है, चार पांच वर्ष में पूरा सुधार नहीं होगा, लेकिन पूरी निष्ठा के साथ सरकार सुधार में लगी है। 2022 तक सबको आवास मुहैया कराया जाएगा। नौजवानों के लिए कौशल विकास केंद्र सारे देश भर में खोले जा रहे हैं। कौशल विकास होगा तो नौजवान पूछेगा कि कौशल विकास हो गया और प्रतिभा हुनर को विकसित कर लिया, अब कहां से पैसा आएगा। उसकी भी मुकम्मल व्यवस्था कर दी गई है। काम धंधा करने के लिए नौजवान अगर कर्ज चाहता है तो मुद्रा योजना से मुहैया कराया जाएगा।उन्होंने कहा, आज केंद्र सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप कोई नहीं लगा सकता। मेरा दावा है कि आज तक अखबारों में बेबुनियाद ही सही भ्रष्टाचार का कोई आरोप सरकार पर पिछले ढाई साल में नहीं लगा।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग