ताज़ा खबर
 

रीता बहुगुणा जोशी के बीजेपी ज्‍वाइन करने पर भड़की कांग्रेस, राज बब्‍बर ने बताया दगाबाज़

जोशी ने गुरुवार को भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में पार्टी की सदस्‍यता ग्रहण की।
रीता बहुगुणा जोशी। (Photo-Indian Express/File)

रीता बहुगुणा जोशी के पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल होने से कांग्रेस भड़क गई है। कांग्रेस की तरफ से रीता के दल-बदल पर काफी तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली है। कांग्रेस नेता व यूपी कांग्रेस के चीफ राज बब्‍बर ने रीता को ‘दगाबाज’ करार दिया है। राज बब्‍बर ने कहा कि ‘ये (रीता) इतिहास की प्रोफेसर थीं। शायद यही कारण है कि अपने परिवार के इतिहास को दोहराने में चूक नहीं रही हैं। इनके परिवार में ये चौथा-पांचवां बदलाव है।” वहीं कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने भी रीता के पार्टी बदलने पर प्रतिक्रिया दी है। उन्‍होंने कहा, ”अवसरवादी एक जगह टिकते नहीं। असली बात है कि वो सीट जीत नहीं सकती थीं, मुकाबला मुश्किल था।” पिछले तीन-चार दिन ने रीता के बीजेपी में जाने की अटकलें लगाई जा रही थीं, मगर पुष्टि करने को कोई तैयार नहीं था। गुरुवार को भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में रीता पार्टी में शामिल हुईं। उन्‍होंने विधानसभा से भी इस्‍तीफा दे दिया है।

बीजेपी में शामिल होकर क्‍या बोली रीता बहुगुणा जोशी, देखें वीडियो: 

बीजेपी में शामिल होने के बाद रीता ने कहा, ”मैंने राष्ट्रहित और प्रदेश हित में यह फैसला लिया है। मैंने बहुत ही सोच समझकर यह फैसला लिया है। जोशी ने सर्जिकल स्ट्राइक पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया पर उसकी आलोचना करते गुए कहा कि हाल के दिनों में हुई गतिविधियों ने मुझे स्तब्ध कर दिया है।” राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए रीता बहुगुणा ने कहा कि सोनिया गांधी हमारी बातें सुनती थीं, लेकिन राहुल नहीं सुनते। उन्होंने कहा- ”जब सारे विश्व ने इसको स्वीकार कर लिया कि हमने सर्जिकल स्ट्राइक किया है। मुझे यह कतई पसंद नहीं आया कि कांग्रेस या अन्य पार्टियां इस पर सवाल उठाएं। ‘खून की दलाली’ जैसे शब्द का उपयोग किया गया। उससे मैं काफी दुखी हो गई। 24 सालों तक कांग्रेस की सेवा की लेकिन मुझे लगता है कि इसकी साख खत्म हो चुकी है, राहुल गांधी का नेतृत्व लोगों को स्वीकार्य नहीं है।”

यूपी से अलग, एक दिलचस्‍प मुकाबला दिल्‍ली के फिरोजशाह कोटला स्‍टेडियम में खेला जा रहा है। जहां भारत व न्‍यूजीलैंड की टीमें सीरीज का दूसरा वनडे खेल रही हैं। मैच की लाइव अपडेट्स जानने के लिए यहां क्लिक करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. N
    Narendra Batra
    Oct 20, 2016 at 1:51 pm
    tune samajwadi party chhodkar deshprem ka kaam kiya tha bhadwe dalle haramk neech kush bolne se pahle apne gireban me jhak liya kar dalal khatia ke
    Reply
  2. V
    Vijay
    Oct 21, 2016 at 4:02 am
    बब्बर साहब अगर इतिहास की ही बात करनी है तो फिर नेहरू गाँधी का अपना इतिहास भी बड़ा रंगीन है.
    Reply
  3. S
    suresh chandra
    Oct 21, 2016 at 12:09 pm
    जिनके अपने घर सीसे के होते है उन्हे दूसरों पर पत्थर नहीं फेकने चाहिए। राज बब्बर जी स्वयम समाजवादी पार्टी छोड़ करा काँग्रेस मे शामिल हुए थे तब उन्हे गद्दारी बेवफाई जैसे शब्द याद नहीं आए अब उन्हे ये सब बोलने का अधिकार ही नहीं है । काँग्रेस एक डूबता हुआ जहाज/अब तो नाव ही रह गई है ।इसे छोड़ कर जाने वाले अभी बहुत होंगे जहां तक वफादारी का प्रशान है राजनीति अब मात्र ब्यापार हो गया है जिसे जहां अच्छा लगेगा वहाँ जाएगा और संविधान भी इसकी इजाजत देता है ।
    Reply
सबरंग