ताज़ा खबर
 

मोदी पर बरस पड़े राहुल, कहा: ‘संघ चर्चा और वार्ता की इजाजत नहीं देता’

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जम कर बरसे। राहुल ने कहा- संघ की मान्यता वैयक्तिकता की ‘हत्या’ करना है और यही विचार प्रक्रिया देश को चला रही है जिसमें केवल एक ही व्यक्ति किसान से लेकर कपड़ों तक की जानकारी रखता है।
Author May 29, 2015 11:58 am
राहुल गांधी ने फिर किया पीएम मोदी पर हमला, बोले, डॉ मनमोहन सिंह से ली एक घंटे की क्लास (फोटो: भाषा)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जम कर बरसे। राहुल ने कहा- संघ की मान्यता वैयक्तिकता की ‘हत्या’ करना है और यही विचार प्रक्रिया देश को चला रही है जिसमें केवल एक ही व्यक्ति किसान से लेकर कपड़ों तक की जानकारी रखता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उनके पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह ने बुधवार सुबह अर्थव्यवस्था की हालत को लेकर आलोचना की थी और शाम को नरेंद्र मोदी ने उनसे ‘पाठशाला’ ली।

एनएसयूआइ के राष्ट्रीय सम्मेलन में राहुल ने कहा कि आप आरएसएस की शाखा को देखिए। शाखाओं में सीधी पंक्तियां होती हैं। यदि वहां कोई आवाज करता है तो उस पर डंडा चलाया जाता है। क्या आपने किसी आरएसएस व भाजपा नेता से बात की है। वैयक्तिक्ता की हत्या करने के लिए उनके पास अनुशासन महज एक बहाना है और यही एक विचार प्रक्रिया है जो देश को चला रही है।

राहुल ने कहा-‘एक आदमी सब जानता है। भले ही वह किसानों का मुद्दा हो या शिक्षा या कपड़े, केवल एक आदमी सब कुछ जानता है। हम कहते हैं सब लोग आओ, मिल कर बैठेंगे और मुद्दों पर बात करेंगे। समाधान निकलेगा। जबकि वे (संघ-भाजपा) कहते हैं- आप आइए और यहां चुपचाप बैठ जाइए।

केवल एक आदमी बोलेगा।’ उन्होंने कहा- संघ चर्चा और वार्ता की इजाजत नहीं देता। अनुशासन को वैयक्तिकता की हत्या करने के बहाने के रूप में इस्तेमाल किया जाता है और लाखों लोगों को चुप कराने के लिए बहाने के रूप में इसका इस्तेमाल किया जाता है। वे उसी तरह अपने हाथ उठाते हैं जैसे वे जर्मनी में करते थे। मैं तो वह कर ही नहीं सकता।’

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने छात्रों से कहा कि वे उन शिक्षण संस्थानों में संघ से लड़ें जहां वह अपनी विचारधारा थोप रही है। उन्होंने कहा कि जहां कहीं भी संघ अपनी विचार प्रक्रिया थोपने की कोशिश करे, आप खड़े हो जाइए और उन्हें रोकिए।

PHOTOS: राहुल गांधी ने कुछ इस अंदाज़ में खाई मछली…

प्रधानमंत्री के वादों को लेकर उन पर निशाना साधते हुए राहुल बोले- मोदी ने कहा था कि वे गरीबों की मदद करना चाहते हैं, लेकिन अभी तक वे किसी किसान या गरीब के घर नहीं गए, जबकि कई देशों में घूम चुके हैं। फ्रांस, अमेरिका, जापान की यात्रा कर चुके हैं और यहां तक कि मंगोलिया और चीन भी हो आए।

लेकिन किसी किसान या मजदूर के घर नहीं गये। उन्होंने कहा था कि वे 100 दिन में काला धन वापस लाएंगे। अब वे सरकार के एक साल पूरा होने का जश्न मना रहे हैं। 100 दिन काफी वक्त पहले पूरे हो गए, लेकिन काला धन अब तक नहीं लौटा है।

शिक्षा में संघ के दखल का आरोप लगाते हुए राहुल ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय पर संघ का पूरा हाथ है। पहले जानेमाने वैज्ञानिक आइआइटी और आइआइएम जैसे संस्थानों को अपने सुझाव देते थे। पर अब वे अपने सुझाव नहीं देना चाहते, क्योंकि एक निश्चित विचारधारा थोपी जा रही है।

उन्होंने युवा नेताओं से इस सोच से मुकाबला करने का आह्वान करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय और शिक्षण संस्थान देश का भविष्य होते हैं, चाहे आइआइटी, आइआइएम हों या स्कूल।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग