ताज़ा खबर
 

इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर रिसाव से हड़कंप

राजधानी स्थित इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के माल परिसर में तुर्की से आए एक रेडियोधर्मी पदार्थ में आज रिसाव हो गया।
Author May 30, 2015 09:19 am
दिल्ली एयरपोर्ट पर रेडियोएक्टिव पदार्थ हुआ लीक, राजनाथ ने कहा, लीकेज काबू में

इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर शुक्रवार सुबह रेडियोधर्मी पदार्थ लीक होने की सूचना से हड़कंप मच गया। जिस कंटेनर से रेडियोधर्मी पदार्थ लीक होने की सूचना फैली वह तुर्की से फोर्टिस अस्पताल के लिए लाया गया था। सूचना मिलते ही सीआइएसएफ, दिल्ली पुलिस, एनडीआरएफ और डीडीएमए सहित नागर विमानन मंत्रालय ने बचाव कार्य शुरू कर दिया।

इसी बीच केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मीडिया से कहा कि रिसाव रोक दिया गया। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने हवाई सुरक्षा निदेशक की अगुआई में एक टीम बनाकर जांच की बात कही। हालांकि देर शाम परमाणु नियामक बोर्ड और दिल्ली सरकार ने कहा कि शुरुआती जांच के बाद पता चला कि इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कोई रेडियोधर्मी रिसाव नहीं है।


यह नियमित प्रक्रिया का एक हिस्सा था। रेडियोधर्मी पदार्थ के रिसाव की सूचना फैलते ही एनडीआरएफ की टीम और रसायन विशेषज्ञ मौके पर पहुंचे। कार्गो टर्मिनल पर कर्मचारियों की आंखों में जलन शुरू हुई तो रिसाव का पता चला। राजधानी दिल्ली के बेहद सुरक्षित समझे जाने वाले हवाई अड्डे पर इस तरह की घटना सामने आने के बाद आनन-फानन में केंद्रीय गृह मंत्री ने पत्रकार सम्मेलन में दावा किया कि इस पर तत्काल काबू पा लिया गया है। हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही सामान्य रूप से जारी है।

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) को शुरुआती जांच में पता चला कि तुर्की एयरलाइंस का एक विमान इस्तांबुल से दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल के लिए 10 कंटेनर रेडियोधर्मी पदार्थ लाया था जिनमें से कुछ पैकेट में रिसाव पाया गया। डीडीएमए ने जिला मजिस्ट्रेट नई दिल्ली संजय कुमार को जांच का जिम्मा सौंपा है।

आपदा प्रबंधन के जिला मजिस्ट्रेट कुणाल को भी समन्वय के लिए भेजा गया। एनडीएमए के सदस्य डीएन शर्मा की देखरेख में पूरे मामले की जांच शुरू हुई। इसमें परमाणु ऊर्जा के अधिकारियों, डीआरडीओ के विशेषज्ञों, हवाई अड्डा पुलिस उपायुक्त, दिल्ली इंटरनेशनल एअरपोर्ट लिमिटेड (डायल) के सुरक्षा अधिकारियों को बुलाया गया। जांच में दस कंटेनरों में से कुछ पैकेटों में थोड़ा रिसाव पाया गया।

डायल ने कहा कि किसी भी यात्री को रिसाव या विकिरण से कोई खतरा नहीं है क्योंकि जहां रिसाव हुआ है वह क्षेत्र यात्री टर्मिनलों से काफी दूर है।

दिल्ली के मुख्य सीमाशुल्क आयुक्त बीके बंसल ने कहा कि पूरे क्षेत्र की घेरेबंदी की गई है। कर्मचारियों को वहां से हटा दिया गया। माल ढुलाई की जिम्मेदारी एक निजी एजंसी सेलेबी की है और वह जरूरी कदम उठा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग