ताज़ा खबर
 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के बाद तस्वीर पर भी सवाल: नगला फतेला के पूर्व प्रधान ने कहा- हमारे गांव में नहीं है बिजली कनेक्शन, PMO ने जारी किया गलत फोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त को अपने भाषण के दौरान कहा था कि उनकी सरकार ने 70 साल बाद उत्‍तर प्रदेश के हाथरस के गांव नगला फतेला में बिजली पहुंचाई है। लेकिन नगला फतेला के लोगों का कहना है कि उनके गांव में अबतक बिजली नहीं पहुंची है।
Author August 17, 2016 08:31 am
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त को अपने भाषण में नगला फतेला का जिक्र किया था। हालांकि, वहां अबतक बिजली नहीं पहुंची है। (Express Photo: Manoj Aligadi)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त को अपने भाषण के दौरान कहा था कि उनकी सरकार ने 70 साल बाद उत्‍तर प्रदेश के हाथरस के गांव नगला फतेला में बिजली पहुंचाई है। लेकिन अब यह दावा गलत साबित हो रहा है। गांव नगला फतेला के लोगों का कहना है कि उनके गांव में अबतक बिजली नहीं पहुंची है। नंगला में तकरीबन 600 घर हैं जिसमें से 450 में अबतक बिजली नहीं है। वहीं जिन 150 घरों में बिजली है उन्होंने गैरकानूनी ढंग से ट्रांसफॉर्मर से तार जुड़वा रखे हैं ताकि वे अपने ट्यूबवेल चला सकें। गांव के प्रधान योगेश कुमार ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में बताया कि 22 ट्यूबवेल चलाने के लिए दो महीने के लिए 395 रुपए दक्षिण विद्युत वितरण निगम (DVVNL) को दिए जाते हैं। प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए बयान पर गांव में रहने वाले उल्लानूर उसमानी ने कहा, ‘शायद प्रधानमंत्री को हमारी हालत के बारे में नहीं पता।’

दिल्ली से 300 किलोमीटर दूर बसे इस गांव में लगभग 3,500 लोग रहते हैं। इसमें से 900 मतदाता हैं। यह उन 18,457 गांवों में से एक है जहां पीएम ने बिजली पहुंचाने की मुहीम चलाई थी। मई 2017 तक इस काम को पूरा कर लेने का लक्ष्य भी रखा गया है। गांव वालों ने बताया कि उनके गांव में मीटर, तार और खंभे लग चुके हैं लेकिन बिजली अब भी नहीं आई है।

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने पोस्ट की गलत फोटो ? प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान पीएमओ की तरफ से एक फोटो भी पोस्ट की गई थी उसमें कुछ लोग बैठकर टीवी पर पीएम का भाषण सुन रहे थे। लिखा गया था कि वह तस्वीर नंगला फतेला की है। लेकिन गांववाले उस तस्वीर को देखकर चौंक गए। उन्होंने कहा कि वह तस्वीर उनके गांव की नहीं है। वहीं कुछ ने बताया कि तस्वीर बराबर के गांव नंगला सिंधि की हो सकती है जिसे हाल ही में बिजली मिली है।

फोटो के विवाद पर पीआईबी ने बयान जारी करके कहा कि बिजली पहुंचाने से मतलब था कि सभी घरों तक बिजली पहुंच गई है जिसमें बिजली के लिए जरूरी ढांचे की बात की जा रही थी।

Read Also: पीएम ने नंगला के बारे में क्या कहा था, क्लिक कर पढ़िए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    bitterhoney
    Aug 17, 2016 at 6:42 am
    यह सरकार झूठ के पुलिंदे के अलावा कुछ नहीं है इसके दिए सारे आंकड़े गलत हैं केवल जनता को उल्लू बना कर राज करना है. जनता को सावधान हो जाना चाहिए और देश के हित में इस सरकार को गिरा देना चाहिए वरना यह सरकार देश का बंटाधार कर देगी.
    (1)(0)
    Reply
    1. D
      Deepak Gamare
      Aug 17, 2016 at 5:49 pm
      I like
      (0)(0)
      Reply
      1. D
        Deepak Gamare
        Aug 17, 2016 at 5:50 pm
        इस देश मे मोदि जैसा कोई नहि
        (0)(1)
        Reply
        1. I
          indrajeet maurya
          Aug 17, 2016 at 11:11 am
          indrajeet mauryabeta yeh to 2019 me pta chal jayega. ki tarah bhokte raho ab congress nhi aane vali. lag rha hai ghotalo ki puri list bhul e ho kya jo manmohan govt. ne kiya tha.
          (2)(0)
          Reply
          1. J
            jai prakash
            Aug 17, 2016 at 9:04 am
            आखिर ये उत्तर प्रदेश हे हमारे गांव में तो महीने में मुश्किल से ५० घंटे भी नही आती हे गांव का बिद्युतीकरण १९७५ में हुआ था इसमे कोन सी सरकार को दोष दे सब तो एक से बढ़ कर एक हे
            (1)(0)
            Reply
            1. N
              nikhilesh
              Aug 20, 2016 at 1:43 am
              जनसत्ता को बड़ी तकलीफ रहती है सरकार से ? 8000 गाँव में पहुँच गयी बिजली उसका जिक्र नहीं पर PM ने नंगला सिंधु की बजाय नंगला फतेला बोल दिया तो पहाड़ टूट गया । Pressute
              (0)(0)
              Reply
              1. R
                R.K.Sharma
                Aug 17, 2016 at 9:00 am
                क्या लिखे हमारे देश के हर गांव की यही इस्थिति है बात बिजली की ही नहीं कोई भी सुविधा केवल कागजों में ही चलती है और घोटाला किया जाता है ,कागज का पेट भरकर अपनी नौकरी बचाई जाती है बस ...चाहे सड़क हो या पानी या सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान जहाँ से सारा राशन ब्लैक में बिक जाता है ...फर्जी राशन कार्ड बनते है |आदि आदि ..
                (0)(0)
                Reply
                1. R
                  R.K.Sharma
                  Aug 18, 2016 at 4:57 am
                  हमारे गाओं की इस्थिति खराब है केवल कागजों में ही अच्छी है .....
                  (0)(0)
                  Reply
                  1. S
                    sanjay
                    Aug 17, 2016 at 9:10 am
                    ७० साल से बिजली नहीं आई इस बात के लिए ७० साल तक राज करने वाले दोषी है या दो साल में बिजली पहुंचाने वाले मोदीजी ! जो देश भारत के बाद आजाद हुवे और जो देश हमारे आजादी के बाद से ही हमारे से भी कमजोर थे प्राकृर्तिक संसाधन भी नहीं थे वे देश आज विकसित राष्ट्र बन गए इस बात के लिए कांग्रेस जो कटघरे में होना चाहिए उसकी जगह मीडिया मोदीजी को कटघरे में खड़ा करने की भूल कर रहा है ! अरे भाई अब लोग मोबाइल और इंटरनेट से जुड़ गए है अब पत्रकारिता इनके अनुसार होनी चाहिए न की पुरातन के अनुसार !
                    (2)(0)
                    Reply
                    1. Vinay Dhareval
                      Aug 17, 2016 at 9:53 am
                      सरकार हैं, फेकति हैं,,,, फेकने दो
                      (2)(1)
                      Reply
                      1. V
                        Vinay Totla
                        Aug 17, 2016 at 7:53 am
                        आप चिंता न करे अब यह भाजपा की सरकार दुबारा नहीं आएगी| जनता सब समझती है एक बार धोखा का लिया बार बार नहीं खायेगी!!!!!!!!!!!!
                        (0)(0)
                        Reply
                        1. N
                          Nomani
                          Aug 17, 2016 at 11:19 am
                          डा जवाब nahee
                          (0)(1)
                          Reply
                          1. Load More Comments
                          सबरंग