ताज़ा खबर
 

मोदी के मंत्री ने शेयर की नासा वाली भारत की तस्वीर, कहा- हमारे 3 साल का ‘काम बोलता है’

केंद्रीय मंत्री द्वारा 15 अप्रैल को किए गए इस पोस्ट को 30 हजार से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं और करीब 5 हजार लोगों ने इसे शेयर किया। सैकड़ों की संख्या में लोगों ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया भी दी।
Author नई दिल्ली। | April 15, 2017 16:33 pm
नासा द्वारा खींची भारत की तस्वीर।

मोदी सरकार के सबसे चर्चित मंत्रियों में शुमार केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल पीएम मोदी के महत्वाकांक्षी ग्रामीण विद्युतीकरण परियोजना को पूरा करने लगे। ताकि देश के सभी लोगों को बिजली मिल सके। शुक्रवार को पीयूष गोयल ने अपना काम पूरा करते हुए 24 घंटे बिजली देने के लिए यूपी सरकार से करार किया है। जिसके बाद यूपी के ग्रामीण के क्षेत्रों में रहने वालों को भी पर्याप्त बिजली मिल सकेगी। 2022 तक पीएम मोदी की महात्वाकांक्षा है कि सभी को बिजली मिले। गोयल ने नासा की एक फोटो शेयर करके 2012 के भारत और भारत 2016 की तुलना की है। फेसबुक पर किए अपने पोस्ट में गोयल ने लिखा- पिछले 3 सालों से हम सभी को बिजली मिले इस ओर अथक काम कर रहे हैं और इसका नतीजा नासा द्वारा ली गई फोटो में दिखाई देता है।

केंद्रीय मंत्री द्वारा 15 अप्रैल को किए गए इस पोस्ट को 30 हजार से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं और करीब 5 हजार लोगों ने इसे शेयर किया। सैकड़ों की संख्या में लोगों ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया भी दी। अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने हाल में भारत की एक तस्वीर जारी की। ये तस्वीर 2016 में अंतरिक्ष से खींची गई थी। नाइट लाइट्स नाम से तस्वीरों की इस सीरीज में नासा ने दिखाया कि रात में हमारी पृथ्वी कैसी नजर आती है। साल 2012 ने नासा ने तस्वीरों की ये सीरीज़ नाइटल लाइट्स की पहली तस्वीर जारी की थी। हालांकि पहले और अबकी तस्वीरें में भिन्नता नजर आ रही है। तस्वीर में रोशनी से जगमगाता हुआ भारत नजर आ रहा है। ये तस्वीरें नासा-नोआ (NASA-NOAA) सुओमी नेशनल पोलर-ऑरबिटिंग पार्टनरशिप सैटेलाइट पर लगे विज़िबल इन्फ्रारेड इमेजिंग रेडियोमीटर सुइट (वीआईआईआरएस) से मिले डाटा का नतीजा हैं। वीआईआईआरएस पहला ऐसा सैटेलाइट उपकरण है, जो प्रकाश के उतसर्जन तथा परछाइयों का सही आकलन कर सकता है, ताकि शोधकर्ताओं को रात के समय दिखने वाली रोशनी के स्रोतों की सही जानकारी मिल सके।

अंबेडकर जयंती (14 अप्रैल) को ‘पावर फॉर ऑल’ योजना के तहत उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार के बीच सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए गए। इस दौरान केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ मौजूद रहे। योगी आदित्य नाथ ने यूपी सरकार की दूसरी कैबिनेट मीटिंग के बाद कहा था कि 2018 तक पूरे प्रदेश को बिजली देने की योजना है। हम इस संबंध में प्रयास कर रहे हैं। इसी को लेकर केंद्र सरकार और यूपी सरकार के बीच शुक्रवार को करार किया गया।

ISRO ने आठ उपग्रहों के साथ सफलतापूर्वक लॉन्च किया PSLV, SCATSAT-1 कक्षा में स्थापित

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.