December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी – 500 और 1000 रुपये केे नोट बंद, 2000 के नए नोट आएंगेे

देश को संबोधित करने का फैसला अचानक से लिया गया है। पीएम मोदी पहली बार देश के नाम संबोधन दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ देर में देश को संबोधित कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि पूरा विश्‍व भारत के विकास को मान रहा है। भारत को विश्‍व में चमक‍ते सितारे के रूप में देखा जा रहा है। यह सरकार सबका साथ सबका विकास में यकीन रखती है। यह सरकार गरीबों को समर्पित है। इसे  जनधन योजना, स्‍टैंड अप योजना, प्रधानमंत्री उज्‍जवला योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना और सॉइल हैल्‍थ कार्ड योजना से समझा जा सकता है। पिछले दशकों से हम यहअनुभव कर रहे हैं कि देश में भ्रष्‍टाचार और कालाधन ने अपनी जड़ें जमा ली हैं। देश से गरीबी हटाने में भ्रष्‍टाचार और कालाधन सबसे बड़ी बाधा है। एक तरफ तो हम विश्‍व में आगे बढ़ने वाले देशों में शामिल है लेकिन दूसरी ओर भ्रष्‍टाचार के मामले में हम 76वें नंबर पर पहुंच गए हैं। यह दर्शाता है कि भ्रष्‍टाचार किस तरह फैला हुआ है। कुछ वर्ग गरीबों को नजरअंदाज कर रहे हैं। इससे वेे फलते-फूलते रहेे हैं। वहीं देश के करोड़ों लोगों ने ईमानदारी को जीकर दिखाया है।

देखें वीडियो, पीएम मोदी का बड़ा ऐलान- बंद होंगे 500 और 1000 रुपए के नोट, आएंगे 500 और 2,000 के नए नोट: 

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज आधी रात से 500 और 1000 रुपये के नोट बंद हो गए है। वे अब कागज के टुकड़ों से अध्‍ािक कुछ नहीं होंगे। उन्‍होंने कहा कि जिन लोगों के पास 500 और 1000 रुपये के नोट हैं वे लोग 10 नवंबर से 30 दिसंबर तक बैंक या पोस्‍ट ऑफिस में जमा कराए जा सकते हैं।  50 दिन का समय है इसके लिए अफरातफरी करने की जरुरत नहीं है। बैंक में जमा किए गए पैसों को निकाला जा सकता है। शुरू में एटीएम से 2000 रुपये ही निकाले जा सकेंगे। नौ और 10 नवंबर के बीच एटीएम से पैसे निकालने की बंदिश होगी। 11 नवंबर तक अस्‍पतालों में पुराने नोट दिए जा सकेंगे। 9 और 10 नवंबर को एटीएम नोट काम नही करेंगे। 72 घंटे तक पुराने नोट से रेलवे, सरकारी बसों और एयरपोर्ट पर टिकट खरीद सकेेंगे। वहीं बैंक ट्रांजेक्‍शन जारी रहेगा। ऑनलाइन पेमेंट, डेबिट, क्रेडिट और डिमांड ड्राफ्ट से भुगतान भी जारी रहेगा। नौ नवंबर को सारे बैंक बंद रहेंगे।

Modi Speech Live: दो हजार और पांच सौ रुपये के नए नोट जारी किए जाएंगे

उन्‍होंने कहा कि इस देश ने बरसों से महसूस किया है कि भ्रष्‍टाचार, आतंकवाद और काला धन के खिलाफ कड़े कदम की जरुरत है। सीमा पार के शत्रु जाली नोटों के जरिए भारत में अपना धंधा बढ़ाना चाहते हैं। भ्रष्‍टाचार, आतंकवाद, काला धन और जाली नोट नासूर की तरह है। हमारी सरकार ने इनका सामना करने के लिए काम किया। सरकार बनने के बाद सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज की अध्‍यक्षता में एसआईटी का गठन किया। बेनामी संपत्तियों को रोकने के लिए मजबूत कानून बनाया गया। इन कानूनों से सवा लाख करोड़ रुपये का कालाधन बाहर लाया गया है। भ्रष्‍टाचार से कमाए गए पैसों से महंगाई बढ़ती है। इससे गरीबों पर असर होता है। चुनाव में भी कालेधन का इस्‍तेमाल होता है।

उनका यह संबोधन तीनों सेनाओं के प्रमुखों से मुलाकात केे बाद लिया गया है। इस मुलाकात में एनएसए अजीत डोवाल भी मौजूद थे। देश को  संबोधित करने का फैसला अचानक से लिया गया है। पीएम मोदी पहली बार देश के नाम संबोधन दे रहे हैं। बताया जाता है वे पाकिस्‍तान से रिश्‍तों और युद्धविराम के उल्‍लंघन को लेकर बयान दिया जा सकता है। प्रधानमंत्री का राष्‍ट्रपति प्रणव मुखर्जी से भी रात को मिलने का कार्यक्रम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 8, 2016 7:55 pm

सबरंग