ताज़ा खबर
 

पीएम नरेंद्र मोदी की कैबिनेट सुरक्षा समिति की बैठक खत्म

मीडिया खबरों के अनुसार सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो सरकार को सौंपा है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार (5 अक्टूबर) को कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति (सीसीएस) की बैठक करेंगे। सूत्रों के अनुसार इस बैठक में उरी हमले के बाद भारत द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक के कथित वीडियो को सार्वजनिक करने पर चर्चा की जा सकती है। मीडिया में आई खबरों के अनुसार भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो सरकार को सौंप दिया है। पीएम मोदी के अलावा गृह मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, वित्त मंत्री अरुण जेटली और रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर इस समिति के सदस्य हैं। सीसीएस के सदस्यों के अलावा बाकी केंद्रीय मंत्री भी बुधवार सुबह प्रधानमंत्री आवास पहुंचे। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार पीएम मोदी सीसीएस की बैठक से पहले कैबिनेट की बैठक करेंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक वीडियो संदेश में सरकार से सर्जिकल स्ट्राइक की पुष्टि करने की अपील की थी। वहीं कांग्रेसी नेता संजय निरूपम ने मंगलवार को कहा कि ये सर्जिकल स्ट्राइक फर्जी प्रतीत होती है।

वीडियो: देखें पिछले 24 घंटे की बड़ी खबरें-

जम्मू-कश्मीर के उरी स्थित आर्मी कैम्प में 18 सितंबर को हुए आतंकी हमले में 19 भारतीय जवान शहीद हुए थे। जवाबी कार्रवाई में चार आतंकी भी मारे गए थे। उरी हमले के करीब 10 दिन बाद 28-29 सितंबर को भारतीय सेना ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक करके कई आतंकी ठिकानों को नष्ट कर दिया था। सेना के अनुसार भारत की सर्जिकल स्ट्राइक में कई आतंकवादी और उनके मददगार मारे गए थे। लेकिन पाकिस्तान ने भारत द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने से इनकार किया है। पाकिस्तान ने दावा किया की नियंत्रण रेखा पर हुई गोलीबारी में दो पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे।

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारतीय सेनाएं और खुफिया एजेंसिया हाई अलर्ट पर हैं। रविवार (दो अक्टूबर) को आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर के बारामूला स्थित बीएसएफ कैम्प पर हमला किया था जिसमें एक भारतीय जवान शहीद हो गया और दो आतंकी जवाबी कार्रवाई में मारे गए। वहीं नियंत्रण रेखा पर युद्ध विराम का पाकिस्तान कई बार उल्लंघन कर चुका है।

Read Also: सर्जिकल स्ट्राइक को ‘फर्जी’ बताकर फंसे कांग्रेसी नेता संजय निरूपम, विरोध होने पर पार्टी ने भी किया किनारा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग