ताज़ा खबर
 

नोटबंदी के बाद नरेंद्र मोदी का फरमान कितने मंत्रियों ने माना, जांचने के लिए पीएमओ ने मांगा तीन महीने का ट्रेवल रिकॉर्ड

प्रधानमंत्री कार्यलय (पीएमओ) की तरफ से केंद्र सरकार के सभी मंत्रियों के कुछ रिकॉर्ड्स मांगे गए हैं।
मई में मोदी सरकार अपने कार्यकाल के तीन साल पूरे करने जा रही है। (Source- Indian express)

 

प्रधानमंत्री कार्यलय (पीएमओ) की तरफ से केंद्र सरकार के सभी मंत्रियों के कुछ रिकॉर्ड्स मांगे गए हैं। इसमें सभी मंत्रियों को पिछले तीन महीने का अपना ट्रेवल रिकॉर्ड दिखाने को कहा गया है। इससे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह देखना चाहते हैं कि उनके मंत्री नोटबंदी के बाद अपने क्षेत्र में कितना घूमे और किस-किस जगह गए। दरअसल, नोटबंदी के बाद मोदी ने अपने मंत्रियों के पास फरमान भेजा था कि उनको अपने क्षेत्र में घूम-घूमकर लोगों को नोटबंदी के फायदों के बारे में बताना है। इसके अलावा ई-ट्रांजेक्शन की जानकारी देने के लिए भी कहा गया था। अब मोदी इस बात का अध्यन करना चाहते हैं कि किस मंत्री ने उनकी बात को कितना माना।

ज्यादा घूमने वाले को मिल सकता है प्रमोशन ! इंडियन एक्सप्रेस को जानकारी मिली है कि संसद में एक सीनियर मंत्री पत्रकारों से बात करते हुए कह रहे थे कि कैबिनेट में आने वाले वक्त में बदलाव भी हो सकता है। उन्होंने बताया कि बदलाव पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद हो सकता है। इस वक्त पंजाब, गोवा, उत्तर प्रदेश, मणिपुर और उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। कुछ राज्यों में वोटिंग हो रही है कुछ में होनी बाकी है। चुनाव के नतीजे 11 मार्च को आएंगे। कैबिनेट में उन लोगों को बड़ा पद मिल सकता है जो चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। साथ ही मंगाई गई रिपोर्ट को भी प्रमोशन के वक्त ध्यान में रखा जा सकता है।

मोदी सरकार द्वारा 8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया गया था। इसमें 500 और 1000 रुपए के नोटों को बंद करने का फैसला किया गया था। साथ ही 500 और 2000 के नए नोट भी लाए गए थे।

बाकी खबरों के लिए क्लिक करें

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. R
    rahul
    Feb 11, 2017 at 6:13 am
    यह तो हद हो गई है नोटबंदी की पैदा की गई आफत का जवाब वो मंत्री अपने संसदीय छेत्रो मे जाकर दे जिन्हें खुद समझ नहीं आ रहा कि नोटबंदी जैसा तुगलकी फरमान से सिवाय बरबादी व कष्ट के कुछ भी हासिल नही हुआ
    (0)(0)
    Reply