ताज़ा खबर
 

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और नेपाल के प्रधानमंत्री प्रचंड की मीटिंग में अचानक पहुंच गए पीएम मोदी

ब्रिक्स सम्मेलन गोवा के पणजी में 15 अक्तूबर से शुरू हुआ है।
Author नई दिल्ली | October 16, 2016 19:02 pm
चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग और नेपाल के प्रधानमंत्री प्रचंड के साथ भारत के प्रधानमंत्री मोदी। (Photo-Facebook)

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ ब्रिक्स डिनर के बाद बैठक कर कर रहे थे। लेकिन वहां पर अचानक भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंच गए। इसके बाद यह दि्वपक्षीय बैठक त्रिपक्षीय में बदल गई। मोदी ने दोनों नेताओं के साथ 20 मिनट से ज्यादा वक्त बिताया। इस घटना से सब लोग हैरान हो गए, दि्वपक्षीय बैठक में इस तरह पहुंचना थोड़ा हैरान करने वाला था। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि पीएम मोदी उस सेशन में क्यों पहुंचे। अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में एक अधिकारी के हवाले से लिखा है कि प्रचंड वहां से निकलने से पहले ब्राजील के प्रतिनिधि मंडल का इंतजार कर रहे थे। इसके बाद शी ने भी उनका साथ देने का फैसला किया है। तभी पीएम मोदी वहां पहुंचे और उन्होंने भी उनको ज्वाइन करने का फैसला किया।

वीडियो में देखें- ब्रीक्स में हिस्सा लेने पहुंचे नेताओं का स्वागत करते पीएम मोदी

प्रचंड के बेटे प्रकाश दहल ने इस बैठक की कई तस्वीरें अपने फेसबुक पेज पर शेयर की हैं। इसके बाद से ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर होने लगीं। दहल ने इस बैठक को ‘संयोगात्मक’ बताया है। नेपाली भाषा में लिखते हुए उन्होंने कहा कि इन देशों की मदद से ही नेपाल की समृद्धि संभव है।

Read Also:  कश्मीर में चीन से मदद मांगते नजर आए कश्मीरी लोग, सामने आईं तस्वीरें

बता दें, नेपाल में अपना प्रभाव बढ़ाने को लेकर चीन और भारत में हमेशा से प्रतिस्पर्धा रही है। दोनों देशों के बीच मौजूद नेपाल रणनीतिक रूप से दोनों के लिए काफी अहम है। बताया जा रहा था कि चीनी राष्ट्रपति ब्रिक्स यात्रा के दौरान भारत आने से पहले नेपाल जाना चाहते थे। लेकिन नेपाल में अगस्त में सत्ता बदलने के बाद उन्होंने अपनी योजना बदल ली। प्रचंड ने केपी ओली की जगह ले ली थी। ओली को चीन का करीबी बताया जाता था। सत्ता में आने के बाद प्रचंड़ ने अपनी पहली विदेश यात्रा पर पिछले महीने भारत पहुंचे थे।

Read Also: ब्रिक्स सम्मेलन: आतंकवाद पर पीएम मोदी को मिला पुतिन का साथ, चीन ने फिर किया निराश

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग