December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

‘मुझे कड़क चाय बनाने की आदत है, जो गरीबों को तो पसंद आती है लेकिन अमीरों का मुंह बन जाता है’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार (14 नवंबर) को उत्तर प्रदेश के गाजीपुर पहुंचे। वहां उन्होंने एक रेलवे लाइन और पुल के निर्माण कार्य की नींव रखी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार (14 नवंबर) को उत्तर प्रदेश के गाजीपुर पहुंचे। वहां उन्होंने एक रेलवे लाइन और पुल के निर्माण कार्य की नींव रखी। कार्यक्रम के बाद पीएम मोदी ने एक रैली को भी संबोधित किया। रैली में काफी सारी बातें कही। मोदी ने 500-1000 के नोटों के बंद होने का भी जिक्र किया। मोदी ने यह भी कहा कि उन्होंने रैली के लिए 14 नवंबर का दिन जानबूझकर रखा। पीएम ने रैली में कांग्रेस के साथ-साथ मायावती पर भी निशाना साधा। मोदी ने लोगों को यह भी कहा कि देश के अंदर से भ्रष्टाचार खत्म करने में आम लोगों को भी कुछ मुश्किल हो सकती है। मोदी बोले की आम लोगों की तकलीफ देखकर उन्हें भी दुख होता है। रैली में मोदी ने इसके अलावा भी बहुत कुछ कहा। गाजीपुर रैली में पीएम मोदी द्वारा बोली गई मुख्य बातें पढ़िए-

1. नेहरू का जिक्र: जवाहर लाल नेहरू का जिक्र करते हुए पीएम मोदी बोले- 1962 में गाजीपुर के सांसद ने नेहरू से पूर्वांचल की बुरी स्थिति का जिक्र किया था। जिसमें सांसद ने कहा था कि पूर्वांचल के लोग गोबर से गेहूं निकालकर खाने को मजबूर हैं। नेहरू ने उस मामले की जांच के लिए कमेटी भी बनाई थी। नेहरू जी के दुनिया छोड़ने के इतने दिन बाद तक किसी ने कुछ नहीं किया। किसी नेता ने गंगा के ऊपर पुल बनाने की बात नहीं सोची। उस कमेटी की रिपोर्ट भी खो गई। आज नेहरू जी के जन्मदिन पर मैं उन फाइलों को फिर से खोलने का निवेदन करता हूं। जिन्हें कांग्रेस पार्टी और उनके परिवार के लोगों ने कभी किसी से सामने नहीं रखा। मैंने यह दिन रैली के लिए जानबूझकर चुना है।

2. चाय: अपने बचपन का जिक्र करते हुए मोदी बोले, ‘लोग मुझसे कहते थे कि मोदीजी चाय थोड़ी कड़क बनाना। मुझे तो बचपन से ही कड़क चाय बनाने की आदत है। इसलिए फैसला भी कड़क ले लिया। गरीब लोगों को तो कड़क चाय पसंद आती है लेकिन अमीर लोगों का उससे मुंह बन जाता है।’

3. आपातकाल: मोदी बोले, ‘कांग्रेस ने 19 महीने आपातकाल लगाकर देश को जेलखाना बना दिया था। 19 महीने तक लोगों को जेल के पीछे बंद रखा। आपने पूरे देश को जेलखाना बना दिया था। क्या आपने वह काम भ्रष्टाचार मिटाने या देश के गरीब लोगों के लिए किया ?’

4. मायावती: मोदी ने मायावती का नाम नहीं लिया। लेकिन सबसे ज्यादा नोटों की माला पहनने किए मायावती ही चर्चा में रहती हैं। मोदी बोले, ‘ पहले नोटों की माला होती थी, बड़ी-बड़ी मालाएं होती थीं, मुंडी भी नहीं दिखती थी।’

5. चवन्नी किस काननू से बंद की ? मोदी ने कहा कि कांग्रेस उनसे पूछ रही है कि उन्होंने किस कानून के तहत 500-1000 के नोट बंद किए। मोदी ने कहा कि पहले कांग्रेस बताए कि उन्होंने किस कानून से चवन्नी बंद की थी ? मोदी ने आगे कहा, ”ये बात और है कि आप चवन्नी से आगे बढ़ नहीं पाते हो। आपने अपनी बराबरी का काम किया हमने अपनी बराबरी का काम किया।’

6. देश की महिलाओं से: देश की महिलाओं को संबोधित करते हुए मोदी बोले कि वे किसी के बहकावे में ना आएं। मोदी ने कहा, ‘‘जबतक तुम्हारा यह भाई जिंदा है। मेरी माताओं जबतक आपका यह लाडला जिंदा है आपने कड़ी मेहनत करके जो पैसा जमा किया है उसपर एक सरकारी अफसर आंख तक नहीं लगा पाएगा।’

7. गंगा में नोट मिलने पर: मोदा बोले, ‘अरे पापियों गंगा में नोट बहाकर भी आपका पाप धुलने वाला नहीं है।’

8. नोट बंदी के फैसले पर: मोदी ने कहा कि आतंकवाद, नकस्लवाद, उग्रवाद से लड़ने के लिए जाली नोट, 500-1000 के नोट बंद करना जरूरी था।

9. नोट फेंककर भागने वालों को: मोदी ने कहा, ‘ये दो नालियों में नोट फेंकते हैं, वो अगर सीसीटीवी में कैद हो गए तो उन्हें भी हिसाब देना पड़ेगा।’

10. लोगों का आशीर्वाद लेने पर: ‘मेरे खिलाफ जो लोग खड़े हैं वह काफी शक्तिशाली लोग हैं। लेकिन आप लोगों के आशीर्वाद से मैं पीछे नहीं हटूंगा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 14, 2016 3:19 pm

सबरंग