May 25, 2017

ताज़ा खबर

 

सीमापार से PM के लिए ‘संदेश’ लेकर आया कबूतर, उर्दू में लिखा था- हर बच्चा भारत से जंग को तैयार

शनिवार को पंजाब के दीनानगर के घिसाल गांव मे दो बैलून मिले थे। बैलून पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए उर्दू में संदेश लिखा हुआ था।

Author पठानकोट | October 2, 2016 20:30 pm
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

बीएसएफ के जवान को बमियाल सेक्टर की सिंबल चौकी पर मिले एक संदिग्ध कबूतर को कब्जे में लिया गया है। सीमापार से आए इस कबूतर के पास से उर्दू में लिखा गया एक पत्र बरामद हुआ है जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित किया गया है। इस इलाके में कल इसी तरह के संदेश वाले दो गुब्बारे भी मिले थे। पुलिस के मुताबिक बरामद कागज पर लिखे गए संदेश में कहा गया है, ‘मोदी जी हमें 1971 (भारत-पाकिस्तान युद्ध) के समय का मत समझिए। अब हर एक बच्चा भारत के खिलाफ लड़ने को तैयार है।’

आतंकियों ने किया सीआरपीएफ दल पर हमला, देखें वीडियो

नारोट जयमाल सिंह पुलिस थाने (पठानकोट) के अधीक्षक रमेश कुमार ने बताया कि धूसर रंग का यह कबूतर बीएसएफ को उनकी चौकी के नजदीक मिला था। उन्होंने बताया, ‘जब यह कबूतर हमें मिला, तब उसके पास वह पत्र भी था। पक्षी को कब्जे में ले लिया गया है। हम मामले की जांच कर रहे हैं।’ गौरतलब है कि पिछले साल गुरदासपुर में आतंकी हमला हुआ था। इससे पहले, 23 सितंबर को पंजाब के होशियारपुर जिले में सीमापार से आया एक कबूतर मिला था जिस पर उर्दू में कुछ लिखा हुआ था।

Read Also: PM नरेंद्र मोदी को उर्दू में गुब्बारे से भेजा संदेश- इस्लाम जिंदाबाद, तलवारें अभी भी हमारे पास हैं

बता दें, शनिवार को पंजाब के दीनानगर के घिसाल गांव मे दो बैलून मिले थे। बैलून पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए उर्दू में संदेश लिखा हुआ था। गुब्बारे के ऊपर एक कागज के टुकड़े में संदेश लिखा हुआ था। उर्दू के जरिए भेजे गए इस संदेश का अनुवाद करने पर उसमें लिखा गया – मोदीजी, अयूबी की तलवारें अभी हमारे पास हैं, इस्लाम जिंदाबाद। गुब्बारों को शुक्रवार को एक गांववाले ने सबसे पहले देखा था। संदेश उर्दू में लिखे होने के कारण व्यक्ति ने गुब्बारे को पुलिस को दे दिया।

भारतीय सेना ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में घुसकर आतंकियों के लॉन्च पैड तबाह कर दिए थे। स्पेशल फोर्सेज के कमांडो ने सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देते हुए PoK में आतंकियों के 7 कैंप तबाह कर दिए। करीब 4 घंटे चले इस ऑपरेशन में 38 आतंकी मारे गए थे। आतंकियों को बचाने के चक्कर में इस स्ट्राइक में 2 पाकिस्तानी सैनिक भी मारे गए। सर्जिकल अटैक के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 2, 2016 7:10 pm

  1. B
    Bob Bhatt
    Oct 2, 2016 at 8:17 pm
    अब तो परमाणु युद्ध हो जय . हम भी अब इस देश से तंग आ चुके है हम मारने को तैयार है लेकिन इस को भी सदा के लिए मर दो.
    Reply

    सबरंग