December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

रेप के जुर्म में सजा काट रहे पीपली लाइव के सह-निर्देशक महमूद फारूकी ने तिहाड़ के कैदियों से कराई एक्टिंग

महमूद फारूकी 30 वर्षीय अमेरिकन महिला के साथ रेप करने के जुर्म में तिहाड़ जेल में सात साल की सजा काट रहे हैं।

Author नई दिल्ली | October 29, 2016 15:03 pm
तिहाड़ जैल के कैदी महमूद फारूकी के निर्देशन में नाटक का मंचन करते हुए। (Photo-Indian Express/Praveen Khanna)

तिहाड़ जेल में हत्या के आरोप में बंद कैदी धर्मेंद्र कुमार के लिए शुक्रवार का दिन कभी हमेशा याद रहने वाले दिन था। 32 वर्षीय कुमार ने नाटक ‘कोर्ट मार्शल’ में हत्या के आरोपी सेना के जवान के वकील की भूमिका निभाई। इस नाटक को कुमार के साथी कैदी और पीपली लाइव के सह-निर्देशक महमूद फारूकी ने डायरेक्टर किया था। कुमार ने कहा कि सच को सामने लाने के लिए अंदर से फीलिंग्स आ रही थी। मैंने यह रोल यह सोचकर निभाया कि मुझे किस तरह से झूठा फंसाया गया था। नाटक में कुमार ने हत्या आरोपी जवान को बचाने की कोशिश की। कुमार साल 2012 में हत्या का आरोपी बनने से पहले एक इंजीनियर थे। फारूकी 30 वर्षीय अमेरिकन महिला के साथ रेप करने के जुर्म में तिहाड़ जेल में सात साल की सजा काट रहे हैं। फारूकी ने बताया कि नाटक को काफी प्रशंसा मिली और कैदी इसे देखने पहुंचे। पूरी टीम ने लगन और अच्छे से काम किया। सीमित संशाधनों के बावजदू भी परिणाम अच्छे मिले। जेल प्रशासन ने भी काफी मदद की। ‘

Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें

बिहार के समस्तीपुर के रहने वाले कुमार ने कहा, ‘जब से फारूकी जेल में आए हैं, तब से थिएटर कल्चर यहां का हिस्सा बन गई है। धीरे-धीरे एक टीम बनाई गई और नाटकों का मंचन किया। पहले मेरा ऑडिशन हुआ और फिर उन्होंने मुझे बताया कि मैं इस रोल के लिए फिट हूं। पिछले दो महीने से हम लोग रिहर्सल कर रहे थे।’ जेल के डीजी मुकेश प्रसाद ने भी कैदियों की प्रशंसा की उन्होंने कहा, ‘फारूकी ने अच्छा काम किया। जिस तरह से उन्होंने नाटक का मंचन किया, उसे देखकर लग रहा था कि वे वाकई में सुरक्षाबलों के जवान हैं। मुझे नहीं लग रहा था कि कैदी इसमें कोई रूचि दिखाएंगे लेकिन वे पूरे नाटक के दौरान बैठे रहे।’

Read Also: पीपली लाइव के सह-निर्देशक महमूद फारूकी को सात साल की कैद, अमेरिकी रिसर्चर से रेप के दोषी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 29, 2016 3:03 pm

सबरंग