ताज़ा खबर
 

राजधानी-शताब्दी ट्रेनों को सफ़ाई पर ग्रेड देंगे यात्री

रेलवे अब जल्द ही 407 व्यस्त स्टेशनों और लगभग 200 ट्रेनों का विस्तृत सर्वेक्षण और ऑडिट करेगा।
Author नई दिल्ली | February 21, 2017 18:58 pm
राजधानी एक्सप्रेस की एक तस्वीर (फाइल फोटो)

राजधानी, शताब्दी और दूरंतो जैसी लोकप्रिय ट्रेनों और देश के बड़े स्टेशनों की स्वच्छता के स्तर को आंकने में अब यात्रियों की अहम भूमिका रहेगी। रेलवे स्टेशनों की साफ-सफाई और स्वच्छता की स्थिति रेलवे के लिए एक मुश्किल का काम रही है। इनपर ध्यान केंद्रित करते हुए रेलवे अब जल्द ही 407 व्यस्त स्टेशनों और लगभग 200 ट्रेनों का विस्तृत सर्वेक्षण और ऑडिट करेगा।

स्वच्छता अभियान से जुड़े रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कोई यात्री ट्रेनों और स्टेशनों की स्वच्छता से जुड़ी तस्वीरें केंद्रीय नियंत्रण बोर्ड को भेज सकता है। इस नियंत्रण कक्ष की स्थापना जल्द ही की जाएगी। यात्रियों से मिलने वाली प्रतिक्रियाओं के आधार पर लोकप्रिय ट्रेनों में सक्रिय रख-रखाव संबंधी सेवाओं, कपड़ों की गुणवत्ता, शौचालयों की स्थिति, कचरे के निपटान और कीट नियंत्रण प्रणाली का ऑडिट भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ट्रेनों और स्टेशनों को सर्वेक्षण के नतीजों के आधार पर रैंक दी जाएगी।

अधिकारी ने कहा कि यात्रियों को इससे जोड़ने के पीछे का उद्देश्य रेल परिसर में स्वच्छता के बारे में जागरूक करना और संबंधित कर्मचारियों से इसपर प्रमुख रूप से ध्यान केंद्रित करवाने का है। सभी प्रमुख ट्रेनों के अलावा सभी जन शताब्दी, संपर्कक्रांति और इंटर सिटी ट्रेनों को भी सर्वेक्षण में शामिल किया जाएगा। पिछले साल रेलवे ने आईआरसीटीसी के माध्यम से बड़े स्टेशनों की सफाई का आकलन करने के लिए यात्रा फीडबैक सर्वेक्षण करवाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग