ताज़ा खबर
 

पंकजा मुंडे के खिलाफ शिकायत करने के बाद मुझे जान से मारने की धमकियां मिली: सचिन सावंत

कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के प्रवक्ता सचिन सावंत ने आज दावा किया कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में राज्य की महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे के खिलाफ...
Author June 26, 2015 14:59 pm
कांग्रेस तक पहुंची चिक्की घोटाले की आंच, महिला नेता के NGO को मिला था ठेका

कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के प्रवक्ता सचिन सावंत ने आज दावा किया कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में राज्य की महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे के खिलाफ निविदाएं आमंत्रित किए बिना 206 करोड़ रुपए की खरीद को मंजूरी देने की शिकायत करने के बाद उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकियां मिली हैं।

सावंत ने कहा, ‘‘ मुझे कल शाम से करीब 40 फोन कॉल की गई हैं। कुछ ने फोन कॉल के दौरान मुझे जान से मारने की धमकी दी जबकि अन्य चाहते हैं कि मैं पंकजा से माफी मांगू।’’

नेता ने कहा कि उन्होंने इस संबंध में पार्टी के नेताओं को बताया और उन्होंने उन्हें पुलिस के पास एक औपचारिक शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी।

सावंत ने कहा कि उन्होंने दो फोन कॉल आने के बाद मुंबई पुलिस आयुक्त राकेश मारिया से फोन पर बात की ।

उन्होंने कहा, ‘‘ मेरे इलाके के एक स्थानीय पुलिस थाने के दो कांस्टेबल मेरे घर आए और उन्हें मेरे आवास के बाहर अस्थायी रूप से तैनात किया गया है।’’

नेता ने कहा कि वह धमकी भरे फोन आने के संबंध में आज बाद में पुलिस के पास एक औपचारिक शिकायत दर्ज कराएंगे।
फडणवीस सरकार पर बीते बुधवार को घोटाले संबंधी पहला बड़ा आरोप उस समय लगा जब कांग्रेस ने भाजपा के दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंंडे की बेटी पर आरोप लगाया कि उन्होंने 24 सरकारी प्रस्तावों के जरिए 13 फरवरी को 206 करोड़ रच्च्पए की खरीद को मजंूरी दी।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने एकीकृत बाल विकास सेवाओं के तहत बच्चों के लिए स्नैक्स, चटाइयां, बर्तन, पानी के फिल्टर, दवाइयां और किताबें खरीदी थीं।

सावंत ने इस मामले को लेकर एसीबी के पास शिकायत की थी और पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने मामले की सीबीआई से जांच कराए जाने की भी मांग की है।

एसीबी ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए सावंत द्वारा लगाए आरोपों के संबंध में महिला एवं बाल विकास विभाग से जवाब मांगा है।

इस बीच फडणवीस ने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कल मुलाकात की जिसके बाद उन्होंने कहा कि ‘‘प्रथम दृष्टया’’ प्रतीत होता है कि पंकजा ने कुछ भी गलत नहीं किया। हालांकि उन्होंने जांच के आदेश दिए जाने से इनकार नहीं किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. उर्मिला.अशोक.शहा
    Jun 27, 2015 at 7:35 am
    वन्दे मातरम-कूट नीति के, चरित्र हनन के खेल खेलना इस राष्ट्रिय पक्ष से सीखा जा सकता है. लेकिन कितना भी सावधानी बरते इस पक्ष की ी आदते उजागर होती ही है इसी श्रृंखला में भाजप के मंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोप हो रहे है. मराठवाड़ा में पंकजा मुंडे ने अपना वर्चस्व सिद्ध किया है इसीलिए बैल उछाल कूद कर रहे है जा ग ते र हो
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग