ताज़ा खबर
 

पंपोर में 24 घंटे से जारी ऑपरेशन: रुक-रुककर हो रही फायरिंग, हमलावरों के खात्मे के लिए उड़ाई जा सकती है बिल्डिंग

जम्मू-कश्मीर के पंपोर पर सरकारी बिल्डिंग में हुए सोमवार को आतंकी हमला किया गया था। 24 घंटे से आतंकियों के साथ एनकाउंटर चल रहा है। इमारत में 2-3 आतंकियों के छिपे होने की जानकारी है।
Author श्रीनगर | October 12, 2016 07:24 am
पंपोर में सरकारी बिल्डिंग पर दूसरी बार आतंकी हमला। (PTI Photo)

जम्मू-कश्मीर के पंपोर पर सरकारी बिल्डिंग में हुए सोमवार को आतंकी हमला किया गया था। 24 घंटे से आतंकियों के साथ एनकाउंटर चल रहा है। इमारत में 2-3 आतंकियों के छिपे होने की जानकारी है। आतंकियों की संख्या की सटीक जानकारी ऑपरेशन खत्म होने के बाद भी पता चल सकेगा। हालांकि सुरक्षाबलों को किसी भी आंतकी को मारने में अब तक कामयाबी नहीं मिली है। सोमवाद देर रात दो बार फायरिंग और धमाके की खबर सामने आई है। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक आतंकियों के खात्मे के लिए मंगलवार को बिल्डिंग उड़ाने या कमांडो ऑपरेशन का फैसला हो सकता है। पंपोर की ईआईडी बिल्डिंग पर यह दूसरा हमला है। इससे पहले फरवरी मे भी इस बिल्डिंग को आतंकियों ने निशाना बनाया था।

 

पंपोर एनकाउंटर: 24 घंटे से ज़्यादा का समय बीता, अभी भी सरकारी इमारत में छिपे हैं आतंकी

 

टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक बिल्डिंग के अंदर से आतंकियों के रुक-रुककर फायरिंग की जा रही है। सोमवार को सुबह पम्पोर के सेमपोरा स्थित जम्मू कश्मीर एन्टरप्रेन्योरशिप डवलपमेंट इन्स्टीट्यूट (JKEDI) के हेडक्वॉर्टर के परिसर में बनी इस इमारत में आग लगने की खबर सामने आई थी। अधिकारियों के मुताबिक कि परिसर में घुसने के बाद आतंकियों ने पुलिस और सुरक्षाबलों का ध्यान खींचने के लिए छात्रावास के एक कमरे में कुछ गद्दों में आग लगा दी। भवन से धुआं उठने के चंद मिनट के भीतर ही सुरक्षाबल वहां पहुंच गए। इसके बाद बिल्डिंग के अंदर से पुलिस पार्टी पर फायरिंग की गई। सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके की घेरेबंदी कर दी है और ऑपरेशन शुरू किया गया था। 24 घंटे से ऑपरेशन जारी है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों को मार गिराने के लिए मोर्टार गोले, हल्के मशीन गन और छोटे हथियारों का इस्तेमाल किया लेकिन अब तक सफलता नहीं मिली है। इस ऑपरेशन में एक जवान घायल हो गया था।

READ ALSO: पंपोर में सरकारी बिल्डिंग पर हमला, आतंकियों के साथ एनकाउंटर में एक जवान घायल

गौरतलब है कि आतंकियों ने इसी साल फरवरी में भी ईडीआई भवन को निशाना बनाया था। उस वक्त 48 घंटे तक चले अभियान में दो युवा सैन्य अधिकारियों सहित पांच सुरक्षाकर्मी और संस्थान का एक कर्मचारी मारा गया था। वहीं सुरक्षा बलों ने एनकाउंटर में तीन आतंकियों को मार गिराया गया था।

READ ALSO: पूर्व सेनाध्‍यक्ष वीपी मलिक ने कहा- कारगिल जंग के वक्‍त वाजपेयी ने LoC पार करने से रोका, इससे सेना नाराज थी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग