December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

पाकिस्तानी रेंजर्स की फायरिंग से घायल 14 महीने की परी की हालत नाजुक

पाक रेंजर्स की फायरिंग से घायल 14 महीने की परी की हालत नाजुक, सर्जरी के बाद आईसीयू में इलाज जारी।

Author जम्मू | November 4, 2016 16:50 pm
जम्मू: पाकिस्तानी रेंजर्स ने दागे मोर्टार।

 

यहां के एक अस्पताल में गर्दन, रीढ़ की हड्डी और पेट में आयी चोटों का इलाज करवा रही पाकिस्तान रेंजर्स द्वारा14 महीने की परी पाकिस्तान भारतीय सीमा के असैन्य क्षेत्र में बर्बरता ढाने की एक जीता-जागता प्रमाण है। पाकिस्तान द्वारा एक नवंबर को रंगूर कैम्प के उसके गांव में सीमा पार से की गयी गोलीबारी में लड़की के दादा, उसकी चाची और दो चचेरे भाई-बहन की मौत हो गयी। बुधवार को गर्वमेन्ट मेडिकल कॉलेज (जीएमसी अस्पताल) में उसकी जीवन रक्षक सर्जरी की गई थी। परी के एक रिश्तेदार बलजीत कुमार ने बताया कि “इस नन्ही सी उम्र में उसे मालूम नहीं है कि उसके परिवार के साथ क्या त्रासदी हो गई है। पाकिस्तानी गोलीबारी में उसके माता-पिता भी घायल हो गये हैं।”परी का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने बताया कि उसकी गर्दन, रीढ़ की हड्डी और पेट में चोट आयी है। उसकी आंत का भी कुछ हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया है। उसका ‘एक्सप्लोटरी लैट्रोपोमी’ किया गया है और सघन आईसीयू में रखा गया है।

वीडियो: पाकिस्‍तान द्वारा सीजफायर उल्लंघन में घायल हुई 14 महीने की परी, हालत नाज़ुक

अस्पताल में परी जिंदगी और मौत से जूझ रही है। हमले में घायल उसके पिता राकेश कुमार भी इसी अस्पताल में भर्ती हैं। परी की एक अन्य रिश्तेदार गीता कुमारी ने बताया, ‘‘हमारे गांव पर पाकिस्तानी रेंजर्सों का हमला सरासर बर्बरता है। सुरक्षित स्थान पर जाने का समय दिये बिना उन्होंने कई घंटे तक हमारे गांव पर गोलीबारी जारी रखी। इन सभी बातों का परी एक सबूत है।’’ कुमारी ने कहा, ‘‘परी के पिता उसे देख पाने में समर्थ नहीं हैं। उनके पांव में चोट आयी है। हम उन्हें अपने कंधों पर ले गये थे ताकि वह अपने पिता के अंतिम संस्कार में भाग ले सके।’’ पूरे जम्मू क्षेत्र के लोग परी के शीघ्र स्वास्थ होने की कामना कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 4, 2016 4:43 pm

सबरंग