ताज़ा खबर
 

BREAKING: जासूसी के शक में पकड़े गए पाकिस्‍तानी उच्‍चायोग के अधिकारी को छाेड़ना होगा देश

पकड़े गए अधिकारी के पास से रक्षा मंत्रालय से जुड़े कागजात बरामद किए गए हैं।
पाकिस्तान उच्चायुक्त अब्दुल बासित। (फाइल फोटो)

दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने खुफिया सूचना पर पाकिस्‍तानी उच्‍चायोग के एक अधिकारी मोहम्‍मद अख्‍तर को हिरासत में लिया है। टीवी रिपोर्ट्स के अनुसार, पकड़े गए अधिकारी के पास से सेना से जुड़े दस्‍तावेज बरामद किए गए हैं। अधिकारी के दो मददगारों- मौलाना रमजान, सुभाष को भी गिरफ्तार किया गया है। वहीं दूसरी तरफ, जम्‍मू-कश्‍मीर के अब्‍दुल्लियां क्षेत्र में पाकिस्‍तान द्वारा सीजफायर का उल्‍लंघन कर की गई फायरिंग में बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया है। गोलीबारी में 6 स्‍थानीय लोग भी घायल हुए हैं। पाकिस्‍तान की ओर से लगातार हो रहे संघर्षविराम के उल्‍लंघन पर विदेश मंत्रालय ने पाकिस्‍तानी उच्‍चायुक्‍त अब्‍दुल बासित को तलब किया है। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक, विदेश मंत्रालय ने बासित से कहा है कि चूंकि डिप्‍लोमेट्स को इम्‍यूनिटी हासिल होती है, इसलिए संदिग्‍ध जासूस को गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। मगर सरकार ने मोहम्‍मद अख्‍तर को देश छोड़ने का फरमान सुनाया है।

भारत ने इससे पहले 25-26 अक्तूबर को चापरार और हरपाल सेक्टरों में कामकाजी सीमा पर तथा भीमबेर सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष-विराम का उल्लंघन होने पर विरोध दर्ज कराया था। पाकिस्तान ने कहा था कि गोलीबारी में उसके दो नागरिक मारे गए और नौ अन्य घायल हो गए।

 

डिप्‍लोमेट होने के चलते छोड़ा गया संदिग्‍ध पाकिस्‍तानी जासूस, देखें वीडियो: 

भारत ने मंगलवार को कहा था कि पाकिस्तान सेना ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में मोर्टार और छोटे हथियारों से भारतीय सेना की चौकियों पर निशाना साधा था और संघर्ष-विराम का उल्लंघन किया था जिसके बाद सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया।  गत 18 सितंबर को उरी आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में भारतीय सेना के लक्षित हमलों के बाद से पाकिस्तान की ओर से संघर्ष-विराम उल्लंघन के 42 मामले सामने आये हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग