ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी चैनल ने दिखाईं फर्जी तस्वीरें, कहा- चीन के हमले में 158 भारतीय सैनिकों की मौत

पाकिस्तानी टीवी चैनल ने दावा किया है कि सिक्किम मुद्दे पर भारत और चीन के बीच झड़प शुरू हो गई है। जिसके बाद चीन ने भारतीय मोर्चा पर रॉकेट हमले कर दिए। जिसमें भारतीय फौजों के 158 जवान मारे गए हैं।
पाकिस्तानी चैनल ने इस तस्वीर को भारतीय सीमा पर चीन के हमले की बताया है। जबकि भारतीय सेना का कहना है कि यह पुरानी तस्वीर ट्रेनिंग के दौरान हुए हादसे की है। (Photo Source: Dunya News)

भारत और चीन के बीच सीमा विवाद और डोकलाम विवाद को लेकर तनातनी चल रही है। चीन और भारत दोनों अपने रुख में परिवर्तन करने के लिए तैयार नहीं है। इस बीच पाकिस्तान के एक टीवी चैनल भारत के खिलाफ बड़ा प्रोपेगंडा फैला रहा है। पाकिस्तानी टीवी चैनल दुनया न्यूज ने दावा किया है कि चीनी सेना की ओर से किए रॉकेट अटैक में भारतीय सेना के 158 सैनिक मारे गए हैं। इसके अलावा सोमवार को हुए हमले में कई अन्य सैनिक घायल बताए जा रहे हैं। पाकिस्तानी टीवी चैनल की इस हिमाकत की हद तो तब हो गई जब उसने अपनी वेबसाइट पर हमले से संबंधित तस्वीरें भी पोस्ट कर दी। जबकि इंडियन आर्मी ने इन तस्वीरों को फर्जी करार दिया है।

पाकिस्तानी टीवी चैनल ने दावा किया है कि सिक्किम मुद्दे पर भारत और चीन के बीच झड़प शुरू हो गई है। जिसके बाद चीन ने भारतीय मोर्चा पर रॉकेट हमले कर दिए। जिसमें भारतीय फौजों के 158 जवान मारे गए हैं। जबकि दर्जनों अन्य जवान घायल हो गए हैं। टीवी चैनला का कहना है कि इससे पहले भी ऐसे दोनों देशों में झड़प देखने में आई है। टीवी चैनल का कहना है कि विवाद की शुरआत भारत की ओर से की गई थी। जिस पर कार्रवाई करते हुए चीन ने भारतीय मोर्चा पर रॉकेट फायर किया।

चीनी न्यूज चैनल का हवाला

दुनया न्यूज का दावा है कि इस हमले का दो मिनट का फुटेज चाइन सेंट्रल टेलिविजन पर दिखाया गया है। उसका कहना है कि वीडियो में दिखाया गया है कि चीनी सैनिकों ने रॉकेट लांचरों, मशीनगनों और मोर्टारों का उपयोग करके ‘दुश्मन की स्थिति’ पर हमला किया। दावे के मुताबिक भारत और चीन ने दो बड़े और कुछ छोटे इलाकों की संप्रभुता पर अपना-अपना दावा पेश करते हैं जो पिछले दशकों से दोनों के बीच विवादित का मुद्दा बना है। 14,380 स्क्वॉयर मील का अक्साई चिन के क्षेत्र ब्रिटिश उपनिवेशवाद समाप्त होने के बाद से दोनों देशों के बीच विवादित है।

बता दें कि डोकलाम में चीनी सेना ने सड़क निर्माण की कोशिश की थी, जिस पर भारत ने विरोध किया था और चीनी सेना को सड़क बनाने से रोक दिया था। इस क्षेत्र पर चीन अपना दावा करता रहा है। वहीं, भारत इसे भूटान का हिस्सा मानकर भूटान के दावे का समर्थन करता आया है। चीन चाहता है कि भारतीय सेना डोकलाम क्षेत्र से पीछे हट जाए लेकिन भारत इस स्थिति में पीछे हटने के लिए तैयार नहीं है बल्कि भारतीय सेना ने और अधिक फोर्स तैनात कर दी है।

(तस्वीर पर क्लिक करके देखिए पाकिस्तान के चैनल ने इन तस्वीरों को पोस्ट करके किया हमले का दावा।)

भारतीय सेना ने तस्वीरों को बताया फर्जी

भारतीय सेना ने इन तस्वीरों को फर्जी करार देते हुए कहा कि यह हादसे की तस्वीरें है। यह हादसा अरुणाचल में सेना की एक ट्रेनिंग के दौरान हुआ था। घटना की तस्वीरें कई महीने पुरानी है।

 

फारूक अब्दुल्ला ने कहा- हम चिल्ला सकते हैं लेकिन चीन से अक्साई चीन नहीं ले सकते

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग