January 18, 2017

ताज़ा खबर

 

पी चिदंबरम ने कहा- 2013 में भी सेना ने की थी सर्जिकल स्‍ट्राइक, लेकिन कांग्रेस सरकार ने नहीं किया था प्रचार

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने माना कि इस हमले को भारत की पाकिस्‍तान के प्रति नीति में बदलाव की मिसाल के रूप में देखना जल्‍दबाजी होगी।

पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम के अनुसार भारतीय सेना ने पिछले महीने से पहले भी नियंत्रण रेखा पार करके सर्जिकल स्‍ट्राइक को अंजाम दिया था।

पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम के अनुसार भारतीय सेना ने पहले भी नियंत्रण रेखा पार करके सर्जिकल स्‍ट्राइक को अंजाम दिया था। उन्‍होंने बताया कि कांग्रेस के नेतृत्‍व वाली यूपीए-2 सरकार के समय सेना ने जनवरी 2013 में बड़ा हमला किया था। अंग्रेजी अखबार मेल टुडे को चिदंबरम ने बताया कि उस समय सरकार ने इस बात को सार्वजनिक नहीं करने का फैसला किया। ऐसा रणनीतिक अवरोध की नीति को ध्‍यान में रखते हुए किया गया। उन्‍होंने स्‍ट्राइक को लेकर किसी भी अपरिपक्‍व निर्णय निकालने से भी बचने को कहा। चिदंबरम ने कहा, ”हमें इस पर किसी तरह का फैसला देने से पहले समय लेना होगा कि इस हमले से सीमापार से आतंक में कमी आई है या नहीं।” पूर्व केंद्रीय मंत्री ने माना कि इस हमले को भारत की पाकिस्‍तान के प्रति नीति में बदलाव की मिसाल के रूप में देखना जल्‍दबाजी होगी।

पाकिस्‍तानी कलाकारों को लेकर नाना पाटेकर ने क्‍या कहा, देखें वीडियो: 

चिदंबरम बोले, ”सरकार दावा कर रही है कि यह नीति में बदलाव है। हालांकि यह बात तो आने वाला समय ही बताएगा।” हालांकि उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी पूरे दिल से इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ है और देश की सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर हमेशा रहेगी। लेकिन सरकार को अपने फैसलों के नतीजों को भी अपनाना होगा। गौरतलब है कि भारतीय सेना ने पिछले महीने की 28-29 तारीख की रात को एलओसी पार कर पाक अधिकृत कश्‍मीर में आतंकी ठिकानों पर हमला किया था। सेना की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया कि इस हमले में आतंकियों को भारी संख्‍या में नुकसान हुआ और काफी आतंकी मारे गए। ये आतंकी भारतीय सीमा में घुसपैठ कर सेना के ठिकानों व अन्‍य शहरों को निशाना बनाने की फिराक में थे।

सर्जिकल स्‍ट्राइक को झुठलाने के लिए पाकिस्‍तानी सेना का नया हथकंडा, प्‍लेन में भरकर मीडियाकर्मियों को पहुंचाया एलओसी

सूत्रों के अनुसार इस हमले में चार जगहों पर सात-आठ ठिकानों पर हमला किया गया। इस हमले में करीब 50 आतंकी मारे गए। साथ ही पाकिस्‍तानी सेना के दो जवान भी मारे गए। हालांकि पाकिस्‍तान ने सर्जिकल स्‍ट्राइक से इनकार किया और इसे झूठ बताया। सेना की सर्जिकल स्‍ट्राइक को भारत की पाकिस्‍तान के प्रति नीति में बड़े बदलाव के रूप में देखा जा रहा है।

रोमांचित कर देने वाली है PoK में सर्जिकल स्‍ट्राइक अंजाम देने वाले पैरा एसएफ के जवानों की कहानी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 3, 2016 2:01 pm

सबरंग