ताज़ा खबर
 

नौकरी बदलने पर नहीं सताएगी पीएफ खाते की चिंता, सितंबर से अपने आप बदल जाएगा अकाउंट

जॉय ने कहा कि अब हम खातों के लिए आधार कार्ड अनिवार्य कर रहें हैं क्योंकि हम नहीं चाहते कि खातों को बंद किया जाए।
Author नई दिल्ली | August 11, 2017 09:01 am
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ)

नौकरी करने वाले लोगों के लिए एक बहुत ही अच्छी खबर है। अगर नौकरी पेशा लोग अपनी नौकरी बदलना चाहते हैं लेकिन उन्हें पीएफ खाता बदलने की चिंता सताती है तो अब उन्हें परेशान होने की जरुरत नहीं है क्योंकि अब नौकरी बदलने के बाद अपने आप पीएफ खाता भी बदल जाएगा। पीएफ चीफ कमीश्नर वीपी जॉय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अगले महीने यानि की सितंबर 2017 से नौकरी बदलने वाले लोगों का पीएफ खाता अपने आप बदल जाएगा। इस सुविधा के लिए कर्मचारियों को पंजीकरण के लिए अपना आधार कार्ड देना होगा और फिर उन्हें अपना वर्तमान पीएफ खाता बंद कराने की जरुरत नहीं पड़ेगी। नौकरी छोड़ने के बाद कर्मचारी अपना यही पीएफ खाता बनाए रख सकेंगे।

फिलहाल लोगों को अपनी नौकरी छोड़ते समय अपना पीएफ खाता बंद कराना पड़ता है, और फिर वे जहां पर नई नौकरी करते हैं तो उन्हें दूसरा खाता खुलवाना पड़ता है। जॉय ने कहा कि अब हम खातों के लिए आधार कार्ड अनिवार्य कर रहें हैं क्योंकि हम नहीं चाहते कि खातों को बंद किया जाए। पीएफ खाता एक स्थायी खाता होता है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार जॉय ने कहा कि यह कदम इसलिए उठाया जा रहा है ताकि कर्मचारी भविष्य निधी संगठन अपने कर्मचारियों को और ज्यादा स्नेहशील बना सके। जॉय ने बताया कि आधार कार्ड का इस्तेमाल सत्यापन के लिए किया जाएगा और इसके बाद तीन दिनों के अदंर खाते में पैसा ट्रांस्फर कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि कर्मचारी बिना कोई फोर्म भरे आसानी से नौकरी बदलते हुए तीन दिनों के अंदर उनका पैसा ट्रांस्फर कर दिया जाए। अगर किसी के पास आधार कार्ड है और उसका सत्यापन हो चुका है तो वह कर्मचारी बिना किसी आवेदन के अपना खाता ट्रांस्फर करा सकता है और इसके बाद वह देश में कहीं भी नौकरी कर सकता है। इस सुविधा को जल्द ही लागू कर दिया जाएगा। जॉय ने कहा कि हम एक अभियान भी चला रहे हैं जिसमे हम कर्मचारियों को जागरुक करना चाहते हैं कि वे अपना पीएफ का पैसा केवल तभी निकाले जब उन्हें घर बनाने, बच्चों की पढ़ाई या कोई गंभीर बीमारी के कारण अस्पताल में भर्ती हो।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.