ताज़ा खबर
 

हत्या के बदले हत्या: राजनाथ बोले- हमने सुनी मंत्री कथेरिया की स्पीच, कुछ भी भडकाऊ नहीं

आगरा में केंद्रीय मंत्री राम शंकर कथेरिया के विवादास्पद स्पीच पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को राज्यसभा में सरकार का पक्ष रखा।
Author नई दिल्ली | March 3, 2016 19:48 pm
रामशंकर कथेरिया 09.11.2014 को राष्ट्रपति भवन में केंद्रीय मंत्री पद की शपथ लेने के बाद शपथ पत्र पर साइन करते हुए। (Source – Express Photo by Neeraj Priyadarshi)

आगरा में केंद्रीय मंत्री राम शंकर कथेरिया के विवादास्पद स्पीच पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को राज्यसभा में सरकार का पक्ष रखा। राजनाथ सिंह ने कहा कि आगरा में कथेरिया द्वारा दी गई स्पीच में कुछ भी भड़काऊ नहीं है। उन्होंन कहा, ” हमने राम शंकर कथेरिया की स्पीच सुनी, और हमें उसमें कुछ भी भड़काऊ नहीं लगा। सिर्फ एक पार्टी देश की एकता अखंडता की रक्षा नहीं कर सकती इसके लिए हम सबको साथ आना होगा। मैं यह गर्व से कह सकता हूं कि भारत दुनिया का अकेला देश है जहां विश्व के सभी धर्म एक साथ रहते हैं। साथ ही भारत में आपको इस्लाम और ईसाईयत के भी सारे तबके मिल जायेंगे।”

Read Also: आगरा में राम शंकर कथेरिया की विवदास्पद स्पीच से जुड़ी सारी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

वीएचपी नेता अरुण माहौर की हत्या के विरोध में रविवार को आयोजित की गई श्रद्धांजलि सभा में कथेरिया ने कहा था कि हमें अपने आपको शक्तिशाली बनाना होगा। हमें जंग छेड़नी होगी। अगर हमने जंग नहीं छेड़ी तो आज हमने अरुण खोया है, कल हम किसी अन्य को खो देंगे। दूसरा जाने से पहले ये हत्यारें ही चले जाएं। इस प्रकार की ताकत हमें दिखानी होगी। साथ की कथेरिया ने माहौर के हत्यारों के लिए फांसी की सजा की मांग करते हुए कहा कि प्रशासन यह सोचता है कि मैं मंत्री बन गया तो मेरे हाथ बंध गए। वो ऐसा गलत सोचते हैं।

ऑडियो सुनें

 

Read Also: VHP कार्यकर्ता की हत्या: संघ ने मुस्लिमों से कहा- अकबर, बाबर मत बनो वरना जमींदोज कर देंगे

 

फतेहपुर सीकरी से भाजपा सांसद बाबू लाल ने भी कहा था कि अन्य समुदाय के लोग कुछ भी करें और हम लोग चुप बैठे रहें? साथ ही बाबू लाल ने पूछा कि जब लोग हिंदुओं को गोलियों से मार रहे हैं, ऐसे में इकट्ठा होना समाज के लिए गलत है? अगर हम इन लोगों से बदला नहीं ले सकते हैं तो क्या इन लोगों की पूजा करनी चाहिए?

Read Also: आगराः अपने नेता की हत्या के विरोध में हर गांव में ‘संकल्प सभा’ करेगी

सभा में बाबू लाल ने मुस्लिमों को लड़ने के लिए खुली चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा था कि हमारा इम्तहान लेने की कोशिश न करो। हम हमारे समुदाय का अपमान सहन नहीं करेंगे। हम किसी भी कीमत पर अशांति नहीं चाहते, लेकिन अगर तुम हिंदूओं को परखना चाहते हो तो किसी दिन तारीख तय कर लो और आ जाओ। बैठक में केंद्रीय राज्य मंत्री राम शंकर कथेरिया भी शामिल थे, उन्होंने भीड़ को संबोधित करते हुए कहा था कि इससे पहले ही हम अपना दूसरा सदस्य खो दें, हमें जंग छेड़नी होगी।

Read Also: विहिप नेता की हत्या के बाद इमाम की पिटाई, आगरा में साम्‍प्रदायिक तनाव

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.