ताज़ा खबर
 

रामदेव के आटा नूडल्‍स पर कानूनी शिकंजा, FSSAI ने नोटिस भेजकर पूछा- बिना मंजूरी कैसे बेच रहे हो प्रॉडक्‍ट?

पतंजलि आयुर्वेद और 'आकाश योग' को 15 दिन के अंदर FSSAI को भेजना है नोटिस का जवाब।
Author नई दिल्‍ली | November 21, 2015 12:58 pm
बीते सोमवार को ही योग गुरु बाबा रामदेव के पतंजलि आयुर्वेद ने आटा नूडल्‍स को बाजार में उतारा था, जिसका मुकाबला नेस्ले के मैगी ब्रांड से है।

फूड सेफ्टी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) ने बाबा रामदेव के पतंजलि आयुर्वेद को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है कि बिना मंजूरी लिए आटा नूडल्‍स बाजार में कैसे उतारे गए? इसके अलावा एक नोटिस ‘आकाश योग’ को भी भेजा गया है, जो कि आटा नूडल्‍स का मेन्‍युफैक्‍चरर है। ‘आकाश योग’ को बिना लाइसेंस नूडल्‍स बनाने के लिए यह नोटिस भेजा गया है। ये दोनों नोटिस गुरुवार को FSSAI चेयरमैन आशीष बहुगुणा की मंजूरी के बाद भेजे गए। पतंजलि आयुर्वेद और ‘आकाश योग’ को 15 दिन के अंदर नोटिस का जवाब भेजना है।

बीते सोमवार को ही योग गुरु बाबा रामदेव के पतंजलि आयुर्वेद ने आटा नूडल्‍स को बाजार में उतारा था, जिसका मुकाबला नेस्ले के मैगी ब्रांड से है। नेस्ले की मैगी पांच महीने के प्रतिबंध के बाद हाल ही में बाजार में आई है। पतंजलि आयुर्वेद साल भर के अंदर पांच नई मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लागने की तैयारी कर रहा है। ये यूनिटें दिल्ली-एनसीआर, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश में स्थापित की जानी है।

रामदेव दावा कर चुके हैं कि दिसंबर के अंत तक आटा नूडल्‍स 10 लाख स्‍टोर्स में उपलब्‍ध होगा। पतंजलि आयुर्वेद ने 70 ग्राम के आटा नूडल की कीमत 15 रुपए रखी है।

Read Also:

भागवत के ‘आरक्षण’ बयान से नहीं, 200 रु. किलो बिकी दाल ने हराया बिहार चुनाव: तोगड़िया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग