ताज़ा खबर
 

दोबारा राष्‍ट्रपति बनने के मूड में नहीं है प्रणव मुखर्जी, जानिए BJP में किसके नाम की हो रही चर्चा

प्रणव मुखर्जी 80 साल के हो चुके हैं। अपने कार्यकाल के दौरान मिले उपहारों और दस्‍तावेजों का भी निपटारा कर रहे हैं।
Author June 6, 2016 14:20 pm
राष्‍ट्रपति प्रणव मुखर्जी का कार्यकाल जुलाई 2017 में समाप्‍त होने जा रहा है।

राष्‍ट्रपति प्रणव मुखर्जी का कार्यकाल अगले साल जुलाई में समाप्‍त होने जा रहा है। उन्‍होंने अपने करीबियों को संकेत दिया है कि वे फिर से राष्‍ट्रपति बनने के इच्‍छुक नहीं है। साथ ही भाजपा द्वारा उन्‍हें फिर से नॉमिनेट करने की भी नहीं सोच रहे। मुखर्जी 80 साल के हो चुके हैं। अपने कार्यकाल के दौरान मिले उपहारों और दस्‍तावेजों का भी निपटारा कर रहे हैं।

इसी बीच नरेंद्र मोदी सरकार प्रणव मुखर्जी की जगह लेने वाले व्‍यक्ति पर फैसला नहीं ले पाई है। सुपरस्‍टार अमिताभ बच्‍चन, एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार, लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन, सामाजिक न्‍याय मंत्री थावरचंद गहलोत, राज्‍यपाल राम नाईक और द्रोपदी मुर्मु के नाम सामने आ रहे हैं। पनामा पेपर्स में नाम आने के बाद से अमिताभ बच्‍चन का नाम बाहर हो गया।

शरद पवार के नाम पर भी अटकलें लगाई जा रही है। वे हर परिस्थिति के लिहाज से उपयुक्‍त है। द्रोपदी मुर्मु पहली आदिवासी महिला हैं जो राज्‍यपाल बनी हैं। वहीं थावरचंद गहलोत मोदी कैबिनेट में दलित चेहरा है। राष्‍ट्रपति उम्‍मीदवार को फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आरएसएस से चर्चा करने के बाद लेंगे।

Read AlsoUP: माया, मुलायम, सोनिया ने एक भी मुसलमान को नहीं दिया राज्‍य सभा का टिकट, बचेंगे केवल 4 मुस्लिम MP

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. K
    Keshav Goswami
    Jun 6, 2016 at 1:36 pm
    Modi & Co should consider Major Singh Sidhu nominated Rajya Sabha member Cricketer Comedy programme more suitable vocal
    Reply
    1. K
      K P
      Jun 8, 2016 at 4:12 am
      I think Sri Subramaniyam Swami will be next Rastrapati on which name Congress will be Happy because until his mounth is stop he will destroy the Congress by his roots. On the post of Rastrapati he will be unable to go court for fighting against the congress.
      Reply
    2. V
      victim
      Jun 5, 2016 at 3:51 pm
      कोई भी चलेगा पर शरद पवार नहीं
      Reply
      1. N
        NIRAJ SINGH
        Jun 5, 2016 at 3:57 pm
        ये आपको किसने बताया की "राष्‍ट्रपति उम्‍मीदवार को फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आरएसएस से चर्चा करने के बाद लेंगे।"...? पत्रकारिता को इतने निम्न स्तर पर न ले जाइए..चाटुकारिता और विरोध की एक सिमा होती है
        Reply
        1. A
          anand
          Jun 5, 2016 at 4:06 pm
          इसमें नयी बात क्या है.बीजेपी मतलब आरएसएस ही है आरएसएस अभी रिपोर्ट कार्ड लेती है ...
          Reply
          1. K
            Khaleel
            Jun 6, 2016 at 2:25 am
            इस से जयादा समफुल्ल क्या Ho सकता हे की राम Nayak जैसा ghatiya Sanghi इस देश KA president बन jaye
            Reply
          2. P
            Pankaj Tiwari
            Jun 7, 2016 at 9:29 am
            In my opinion Mr. Lal Krishna Advani is the perfect man.
            Reply
            1. S
              Shashi Kant Pandey
              Jun 6, 2016 at 2:49 am
              लालकृष्ण आडवाणी या मुरलीमनोहर जोशी
              Reply
              1. लठैत परकास बलियावा
                Jun 6, 2016 at 8:30 am
                अरे टिंडे सी बदशक्ल सूरत वाले सड़े भोसड़े की पैदाइश कटुए.....बहिन अभी ऐसा पेलूँगा कि फिर से तू अपनी चवन्नी-चवन्नी पे 786 लौड़ों से ने वाली रांड अम्मी के भोसड़े में घुस जाएगा भँड़वे दुबारा अपनी जैसा मुंह मत खोलना वरना हलक तक लौड़ा पेल दूंगा गूँ-गूँ के सिवाय फिर कोई और आवाज़ नहीं निकलेगी रांडपुत्र
                Reply
                1. R
                  Rahul Tomar
                  Jun 5, 2016 at 6:13 pm
                  sonia ke kutto ko to mat बनो................
                  Reply
                  1. B
                    Bharat Singh
                    Jun 6, 2016 at 10:11 am
                    राजनाथ सिंह
                    Reply
                    1. S
                      Surjeet Kumar
                      Jun 6, 2016 at 11:34 am
                      यदि उम्मीदवार बीजेपी से होंगे, तो मेरी पसंद भी लालकृष्ण आडवाणी या मुरलीमनोहर जोशी ही हैं! राष्ट्रपति के रूप में बुज़ुर्ग और सम्मानित व्यक्ति ही श्रेष्ठ होगा, जिसे राष्ट्र की लोकतान्त्रिक राजनीति का अनुभव भी हो!
                      Reply
                      1. Load More Comments
                      सबरंग