March 25, 2017

ताज़ा खबर

 

PAK में ‘लापता’ हुए मौलवी भारत लौटे, बताया- रॉ एजेंट बता कर पाकिस्‍तान ने पकड़ ल‍िया था

18 मार्च को विदेश मंत्री ने ट्वीट करके बताया था कि दोनों मौलवियों का पता चल गया है और दोनों सुरक्षित हैं, उन्हें जल्द ही वापस भारत लाया जाएगा। वहीं, दोनों मौलवियों की सुषमा स्वराज के साथ मुलाकात भी होनी है।

Author नई दिल्ली | March 20, 2017 16:38 pm
पाकिस्तान में लापता हुए दोनों मौलवी वापस भारत लौटे। (Source: ANI)

पाकिस्तान में ‘लापता’ हुए हजरत निजामुद्दीन दरगाह के दो मौलवी आसिफ निजामी और नाजिम निजामी सोमवार को सुरक्षित वापस भारत लौट आए। वापस आए मौलवी में से एक नाजिम निजामी ने निर्दोष भारतीयों को दोषी ठहराए जाने के लिए पाकिस्तान की ओर साजिश रचने का इशारा किया है। उन्होंने खुलासा किया कि पड़ोसी देश पाकिस्तान के एक अखबार ने हमें रॉ (RAW) एजेंट बताने वाली झूठी खबर छापी थी। निजामी ने बताया, ‘पाकिस्तान में “उम्मत” नाम के एक अखबार ने हमें RAW का जासूस बताने वाली झूठी खबरें छापी थी। खबर के साथ ही हमारी फोटो भी छापी गई। दोनों मौलवियों ने भारत सरकार द्वारा किए गए प्रयासों के लिए सरकार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, गृह मंत्री राजनाथ सिंह का धन्यवाद किया।

18 मार्च को विदेश मंत्री ने ट्वीट करके बताया था कि दोनों मौलवियों का पता चल गया है और दोनों सुरक्षित हैं, उन्हें जल्द ही वापस भारत लाया जाएगा। वहीं, दोनों मौलवियों की सुषमा स्वराज के साथ मुलाकात भी होनी है। मौलवी आसिफ निजामी और नाजिम निजामी (भतीजे) दोनों ही हजरत निजामुद्दीन दरगाह के प्रमुख मौलवी हैं। दोनों ही 8 मार्च को पाकिस्तान गए थे। दोनों को लाहौर की मशहूर दाता दरबार दरगाह जाना था और फिर वहां से उन्हें कराची के लिए सफर तय करना था। इसके अलावा दोनों को अपने पाकिस्तान स्थित रिश्तेदारों से भी मिलना था। खबरों के मुताबिक, ‘‘नाजिम लाहौर हवाई अड्डे पर लापता हो गए थे और आसिफ कराची हवाई अड्डा पहुंचने के बाद लापता हो गए थे। भारत ने पाकिस्तान सरकार के साथ नई दिल्ली में और भारतीय उच्चायोग के मार्फत इस्लामाबाद में यह मुद्दा उठाया था। साथ ही पाकिस्तान से इस मुद्दे पर तुरंत कार्रवाई करने का आग्रह किया था।

इससे पहले खबरें आईं थी कि पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई ने दोनों को हिरासत में लिया हुआ है। हालांकि इस बारे में स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है। वहीं, मौलवी नाजिम के पाकिस्तान स्थित रिश्तेदार वजीर निजामी ने एक्सप्रेस ग्रुप से बातचीत की थी। बातचीत में उन्होंने बताया था कि लाहौर एयरपोर्ट से उन्हें एक फोन कॉल आया था जिसमें उन्हें बताया गया कि उनके कजिन नाजिम के कुछ कागजात ठीक नहीं है जिसकी वजह से उन्हें एयरपोर्ट पर ही डिटेन किया जा रहा है। इसके बाद वजीर ने यह भी बताया था कि जब वह अपने चाचा आसिफ को लेने लाहौर एयरपोर्ट पहुंचे तो उन्हें पता चला कि कुछ लोग पहले ही आसिफ को अपने साथ लेकर चले गए थे।

भारत ने अटारी बॉर्डर पर लहराया सबसे ऊंचा तिरंगा; पाकिस्तान को सता रहा 'जासूसी' का डर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 20, 2017 4:00 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग