ताज़ा खबर
 

जहां पूरा बिहार पैकेज की खुशियां मना रहा, नीतीश भाग कर आ गए हैं दिल्ली

नीतीश कुमार के दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ आज यहां मंच साझा करने पर कटाक्ष करते हुए भाजपा ने कहा कि प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित विशाल पैकेज पर सारा बिहार जहां जश्न मना रहा है, वहीं राज्य के मुख्यमंत्री उसमें शामिल होने की बजाय भाग कर यहां आ गए हैं। भाजपा प्रवक्ता […]
Author August 19, 2015 17:48 pm
नीतीश का मोदी को जवाब, बिहार की जनता के लिए याचक बनना मंजूर

नीतीश कुमार के दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ आज यहां मंच साझा करने पर कटाक्ष करते हुए भाजपा ने कहा कि प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित विशाल पैकेज पर सारा बिहार जहां जश्न मना रहा है, वहीं राज्य के मुख्यमंत्री उसमें शामिल होने की बजाय भाग कर यहां आ गए हैं।

भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा, बिहार की जनता उम्मीद कर रही थी कि नीतीश प्रधानमंत्री द्वारा बिहार के लिए कल घोषित किए गए सवा लाख करोड़ रूपयों के पैकेज की सराहना करेंगे लेकिन लगता है कि उनके शब्दकोष में ‘‘स्वागत या धन्यवाद’’ जैसे शब्दों का पूरी तरह अभाव है।

दिल्ली सरकार द्वारा यहां मनाए गए ‘बिहार सम्मान दिवस’ समारोह में केजरीवाल के साथ मंच साझा करने पर बिहार के मुख्यमंत्री की खिंचाई करते हुए उन्होंने कहा कि एक ओर प्रधानमंत्री बिहार की जनता के पास जाकर उनसे विकास के कार्यो के बारे में बात कर रहे हैं लेकिन दूसरी ओर जदयू नेता भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी तथा आप नेता केजरीवाल के सहारे की आस लगाए बैठे हैं।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री से कम से कम इतनी उम्मीद तो की जा रही थी कि वे यह कहेंगे कि प्रधानमंत्री द्वारा घोषित सवा लाख करोड़ रूपयों के पैकेज से राज्य को फायदा होगा लेकिन उन्होंने एक प्रेस वार्ता करके उसकी आलोचना की।

उन्होंने कहा, ‘‘पूरा बिहार पैकेज की खुशियां मना रहा है लेकिन नीतीश दिल्ली भाग आए हैं। आखिरी बार उन्हें जनता के बीच कब देखा गया? वह बिहार में भाजपा को खत्म करने की बात कर रहे हैं। क्या वह सोचते हैं कि वह सोनिया गांधी, राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल से मिलकर ऐसा कर लेंगे।?’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. उर्मिला.अशोक.शहा
    Aug 20, 2015 at 9:22 am
    वन्दे मातरम- नितीश को अपनी नैया डूबती नजर आ रही है शायद इसीलिए ारा तलाश रहे है जनता जान चुकी है की सिर्फ भाजपा ही बिहार का विकास कर सकती है गरीब दलित पिछड़े मुस्लमान आदिवासी सभी वर्गों को विशवास हो गया है की भाजप के पास विकास का नक्शा है और भाजप ही बिहार का भाग्य सवार सकता है जा ग ते र हो
    Reply
  2. उर्मिला.अशोक.शहा
    Aug 20, 2015 at 9:28 am
    वन्दे मातरम- बिहार चुनाव के चलते सभी पक्ष और नेता प्रचार कर रहे है लेकिन लालू की गूंज क्यों नहीं सुनाई देती?नितीश कुमार केजरीवाल के साथ मंच साझा करा सकते है तो फिर लालू के साथ मंच साझा क्यों नहीं करते ?इस गठबंधन में कांग्रेस है लेकिन सोनिया ने मंच साझा करने से मन क्यों किया? गठबंधन को राहुल गांधी क्यों गवारा नहीं? ऐसा लगता है की लालू नितीश चुनाव ी तरह से हारेंगे जा ग ते र हो
    Reply
सबरंग