December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

प्रदूषण के मुद्दे पर एक-दूसरे के सिर पर ठीकरा फोड़ रही हैं केंद्र और दिल्ली सरकार : NGT

दिल्ली में वायु प्रदूषण की स्थिति पर NGT ने आज केंद्र और दिल्ली सरकार को कदम नहीं उठाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि वे एक दूसरे पर दोषारोपण मढ़ने का खेल बंद करें।

Author November 4, 2016 21:00 pm
NGT File Photo

दिल्ली पर धुंध छाए रहने की पिछले 17 साल में सबसे बदतर स्थिति के बीच राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने आज केंद्र और दिल्ली सरकार द्वारा खतरनाक वायु प्रदूषण स्तर को नियंत्रण में करने के लिए कदम नहीं उठाने पर काफी नाराजगी दिखाते हुए उनसे कहा कि वे एक दूसरे पर दोषारोपण मढ़ने का खेल बंद करें। अधिकरण के अध्यक्ष स्वतंत्र कुमार ने कहा, ‘‘दिल्ली के लोगों के प्रति यह अन्याय है। हर चीज में प्रशासन अपना हाथ खड़े कर देता है । हमें कुछ करना है । आप यह नहीं कह सकते कि वक्त इसे करेगा।’’ पीठ ने कहा, ‘‘:लोगों के: स्वास्थ्य के संबंध में कोई परवाह नहीं कर रहा। वायु प्रदूषण पर कोई परेशान नहीं है । प्रशासन एक दूसरे पर दोष मढ़ रहा है । यह बेहद दुखद है।’’ पीठ ने दिल्ली सरकार से राष्ट्रीय राजधानी की सड़कों पर 10 साल से ज्यादा पुरानी डीजल गाड़ियों के परिचालन पर भी रोक लगाने को कहा ।

वीडियो: दिल्ली प्रदूषण: NGT ने दिल्ली सरकार को लगाई फटकार; 4 राज्यों के पर्यावरण सचिवों को किया तलब

सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार के वकील ने पीठ से कहा कि पड़ोसी राज्यों हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में फसल अवशेष जलाने के कारण प्रदूषण का उच्च स्तर है । पीठ ने पलट कर कहा, ‘‘केवल फसल अवशेष जलाने के कारण यह नहीं है। दिल्ली में फसल अवशेष नहीं जलाया गया। आपके मुताबिक हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में फसल अवशेष जलाया गया लेकिन आजकल तो हवा भी नहीं बह रही इसलिए इन राज्यों से धुआं भी नहीं आ सकता।’’ अधिकरण ने पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के पर्यावरण एवं शहरी विकास सचिवों को नोटिस जारी किये और उन्हें आठ नवंबर को सुनवाई के दौरान उपस्थित रहने का निर्देश दिया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 4, 2016 7:09 pm

सबरंग