February 27, 2017

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी: सरकार ने दी UPI ऐप से सेकेंड्स में पैसा मंगाने-भेजने की सुविधा, ऐसे करें इस्तेमाल

बैंकों की इस नई UPI ऐप के जरिए आप कुछ सेकेंड्स में ही भेज सकते हैं किसी दूसरे खाते में पैसा।

Author नई दिल्ली | November 23, 2016 13:03 pm
आर्थिक मामलों के वित्त सचिव शक्तिकांत दास (पीटीआई फाइल फोटो)

नोटबंदी के बाद से कारोबारियों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसी दौरान कारोबारियों और आम लोगों की सुविधा के लिए बैंकों की एक नई ऐप्लिकेशन गूगल प्ले स्टोर पर आ गई है। आर्थिक मामलों के वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने इस नई ऐप की घोषणा की है। दरअसल इस ऐप के जरिए महज कुछ सेकेंड्स में ही आप अपना पैसे एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में ट्रांस्फर कर सकते हैं।

नई यूपीआई ऐप आपको गूगल प्ले स्टोर से आसानी से मिल सकती है। हर एक बैंक की अलग-अलग ऐप स्टोर पर मौजूद है। उदाहरण के लिए अगर आपका बैंक खाता पंजाब नेशनल बैंक में है तो आप पंजाब नेशनल बैंक की यूपीआई ऐप डाउनलोड कर उसे अपने मोबाइल फोन में इंस्टॉल कर सकते हैं। इसके बाद ऐप आपको गाइड करेगी।

सबसे पहले वह आपसे ऐप के लिए पिन नंबर सेट करने के लिए गाइड करेगा। इसके बाद आप ऐप में अपने बैंक खाते की डीटेल्स भरेंगे और जिसके खाते में आपको पैसे भेजना है उसकी डीटेल्स भरेंगे। आखिर में ट्रांस्फर करने से पहले वह एक बार और ऐप पिन नंबर मांगेगी। पिन के करेट होते ही पैसे दूसरे के बैंक खाते में चले जाएंगे और यह काम आप बस कुछ सेकेंड्स में ही पूरा कर सकते हैं।

वहीं इस ऐप से पैसा ट्रांस्फर करने की अधिकतम सीमा पर जानकारी आना अभी बाकी है। इसके अलावा शक्तिकांत दास ने आज प्रेस वार्ता में और भी कई जानकारियां दी हैं। उन्होंने बताया कि 31 दिसबंर तक फोन द्वारा किए गए किसी भी ई-बैंकिंग ट्रांसेक्शन पर कोई चार्ज नहीं लगेगा।

साथ ही दास ने बताया कि RuPay कार्ड के इस्तेमाल में लगने वाले स्विचिंग चार्ज को भी खत्म कर दिया गया है और डेबिट कार्ड के इस्तेमाल पर भी सर्विस चार्ज 31 दिसंबर तक के लिए खत्म किया गया है। इसके अलावा पेटीएम ऐप के ई-वॉलेट की सीमा 10 हजार रुपये से बढ़ाकर अब 20 हजार रुपये तक कर दी है।

वीडियो:बिग बाज़ार के स्टोर्स से निकाल सकेंगे 2000 रुपए; केजरीवाल ने पूछा- क्या डील हुई मोदी जी?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 23, 2016 12:56 pm

सबरंग