ताज़ा खबर
 

भूमि समझौते में असम की सुरक्षा के साथ कोई समझौता नहीं: नरेंद्र मोदी

असम में सुरक्षा से जुड़े मुद्दों को रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि उनकी सरकार घुसपैठ की समस्या के स्थायी समधान के लिए बांग्लादेश सरकार के साथ भूमि की अदला बदली के समझौते पर आगे बढ़ेगी। मोदी ने यहां भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं असम की […]
Author November 30, 2014 17:17 pm
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा था कि भारत में धार्मिक ‘‘असहिष्णुता’’ से महात्मा गांधी को स्तब्ध हो गए होते। (फाइल फ़ोटो पीटीआई)

असम में सुरक्षा से जुड़े मुद्दों को रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि उनकी सरकार घुसपैठ की समस्या के स्थायी समधान के लिए बांग्लादेश सरकार के साथ भूमि की अदला बदली के समझौते पर आगे बढ़ेगी।

मोदी ने यहां भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं असम की समस्याओं को जनता हूं। मैं आप सभी को आश्वस्त करता हूं कि मैं असम की सुरक्षा के साथ कोई समझौता नहीं करूंगा। भूमि की अदला बदली स्थायी समाधान के लिए होगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं भूमि की अदला बदली के बारे में असम के लोगों की भावना को समझता हूं। मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि हम देश और असम के कल्याण को ध्यान में रखते हुए आगे बढ़ेंगे। असम दीर्घकाल में लाभान्वित होगा, चाहे अल्पावधि में ऐसा लगे कि उसे नुकसान हो रहा हो।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार देश को ‘‘दैनिक आधार पर बर्बाद’’ करने में लगी ताकतों के सभी रास्तों को बंद करेगी और कानून के अनुरूप उनके विरुद्ध कार्रवाई होगी। सभी चीजे पूर्वोत्तर के विकास और रोजगार सृजन के लिए होंगी।

महत्वाकांक्षी जन धन योजना का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘भाजपा गरीबों को मुख्यधारा में लाने के लिए काम कर रही है। गरीब लोग पहले कभी भी बैंक नहीं गए। हमने बैंक के दरवाजे गरीबों के लिए खोल दिये।’’

उन्होंने कहा, ‘‘सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक अब काफी मेहनत कर रहे हैं। प्रत्येक सप्ताह एक करोड़ बैंक खाते खुल रहे हैं। पहले एक करोड़ खाते एक महीने में नहीं बल्कि एक साल में खुलते थे।’’

मोदी ने कहा कि भाजपा पहली बार विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ी और अन्य दलों को इस मुद्दे पर विचार के लिए मजबूर किया। उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा सरकार का केवल एक ध्येय है और यह विकास है। किसी भी दूसरी पार्टी में विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ने का साहस नहीं है। महाराष्ट्र, हरियाणा और अब झारखंड में सभी दल विकास की बात कर रहे हैं।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि लोगों ने लगभग सभी दलों को देख लिया जिसमें परिवार संचालित सरकारें हैं और अब केंद्र में भाजपा सरकार को देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा जातिवाद, साम्प्रदायिकता और क्षेत्रवाद के आधार पर राजनीति नहीं करती है। हम इस रास्ते को नहीं अपनाते हैं। हम सभी का विकास में विश्वास रखते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग