ताज़ा खबर
 

बिहार चुनाव: सुशील मोदी का दावा, मुस्लिमों को राजग से ‘परहेज’ नहीं

बिहार विधानसभा चुनाव में धर्मनिरपेक्ष महागठबंधन से मुकाबला के लिए भाजपा नीत राजग इस बार अधिक संख्या में मुस्लिम और यादव उम्मीदवार मैदान में...
Author नई दिल्ली | September 14, 2015 22:51 pm
भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी। (पीटीआई फाइल फोटो)

बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार और लालू प्रसाद के मजबूत सामाजिक गठबंधन का मुकाबला करने के लिए भाजपा नीत राजग इस बार अधिक संख्या में मुस्लिम और यादव उम्मीदवार मैदान में उतारेगा। इसके साथ ही राजग का मानना है कि गठबंधन में जीतन राम मांझी के शामिल होने से उसे राज्य में फायदा मिलेगा।

बिहार भाजपा के नेता सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि लोगों का मानना है कि नीतीश कुमार द्वारा भाजपा को छोड़ कर राजद एवं कांग्रेस से हाथ मिलाने से विकास को झटका लगा है। माना जाता है कि अगर राज्य में राजग की जीत होती है तो सुशील कुमार मोदी मुख्यमंत्री पद के मजबूत उम्मीदवार होंगे। उन्होंने कहा, ‘‘लोग उनके (कुमार के) मौजूदा कार्यकाल की तुलना उस समय से कर रहे हैं जब भाजपा उनके साथ थी।’’

सुशील मोदी ने यादव मतदाताओं का ठोस समर्थन होने के जदयू-राजद-कांग्रेस महागठबंधन के दावे को तवज्जो नहीं दी और कहा कि उन पर लालू प्रसाद की पकड़ ‘‘ढीली’’ हुई है और लोकसभा चुनावों में उनकी पत्नी राबड़ी देवी और उनकी पुत्री मीसा भारती की हार से यह परिलक्षित होती है। बिहार में यादव मतदाताओं की संख्या अच्छी खासी है और वे पारंपरिक रूप से लालू प्रसाद के समर्थक रहे हैं। कुल मतदाताओं में से यादव मतदाताओं की संख्या 12 से 15 प्रतिशत के बीच है।

पूर्व उपमुख्यमंत्री ने दावा किया कि मुस्लिमों को राजग से ‘‘परहेज’’ नहीं है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी इस बार अधिक संख्या में मुस्लिम उम्मीदवार उतारेगी। ‘‘हम और हमारे सहयोगी निश्चित रूप से अधिक मुस्लिम उम्मीदवार उतारेंगे।’’

वह संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने दावा किया कि मुस्लिमों का बिहार भाजपा के साथ अच्छा समीकरण है। बिहार भाजपा के अध्यक्ष मंगल पांडेय ने कहा कि इस बार उनकी पार्टी के टिकट पर अधिक संख्या में यादव उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा यादव मतदाताओं को आकर्षित करने का प्रयास करती रही है। लोकसभा चुनावों में भाजपा यादव मतदाताओं के एक हिस्से खासकर युवाओं का समर्थन हासिल करने में कामयाब रही। यह देखने वाली बात होगी कि क्या वे विधानसभा चुनाव में पार्टी के पक्ष में मतदान करेंगे।

सुशील मोदी ने कहा कि लोगों का मानना है कि कुमार किसी न किसी वजह से केंद्र के साथ संघर्ष करते रहेंगे और वे चाहते हैं कि राज्य के विकास के लिए भाजपा सत्ता में आए। उन्होंने कहा कि महादलित नेता मांझी के गठबंधन में शामिल होने से राजग को बढ़त मिलेगी। उन्होंने कहा कि समुदाय के अधिकतर मतदाताओं ने लोकसभा चुनाव में कुमार को मत दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग