ताज़ा खबर
 

एयरफोर्स डे के बाद नेवी डे कार्यक्रम से भी गायब रहे रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, गोवा के चुनाव प्रचार में हैं व्‍यस्‍त

सोशल मीडिया पर #NavyDay सुबह से ही ट्रेंड कर रहा है।
मनोहर पर्रिकर। (Source: PTI)

आज (04 दिसंबर) भारतीय नौसेना दिवस है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नौसेना दिवस के अवसर पर नौ-सेना के सभी सदस्यों और उनके परिजनों को बधाई दी। रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने भी ट्विटर पर नौसेना दिवस की शुभकामनाएं दीं। उन्‍होंने लिखा कि ”इस नौसेना दिवस पर, मैं भारतीय नौसेना के सभी अधिकारियों, नाविकों और नागरिकों को बधाई देता हूं। उनकी सफलता की कामना करता हूं।” थलसेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग, नेवी चीफ सुनील लांबा, वायुसेना प्रमुख अरुप राहा ने अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। हालांकि पर्रिकर नौसेना के कार्यक्रम में हिस्‍सा लेने नहीं पहुंच सके। नेवी डे के मौके पर नौसेना चीफ अपने आवास पर कार्यक्रम रखते हैं, मगर पर्रिकर गोवा में चुनाव प्रचार में व्‍यस्‍त होने की वजह से कार्यक्रम में नहीं पहुंच पाएंगे। गोवा में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसा दूसरी बार है कि जब राजनैतिक कारणों की वजह से रक्षामंत्री पर्रिकर भारतीय सेना के सेवा दिवस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके। वह इससे पहले एयरफोर्स दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में भी हिस्‍सा नहीं ले पाए थे।

नौसेना दिवस 4 दिसंबर, 1971 की रात को लॉन्‍च हुए ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट” की याद में मनाया जाता है। इस ऑपरेशन में कराची हार्बर को पूरी तरह तबाह कर दिया गया था। इस ऑपरेशन से पाकिस्‍तानी नौसेना को भारी नुकसान पहुंचा था और वह किसी भारतीय नौसेना बेस पर हमला करने की क्षमता खो बैठी थी। इस ऑपरेशन में भारतीय नौसेना ने पहली बार एंटी-शिप मिसाइल्‍स का इस्‍तेमाल किया था। इस ऑपरेशन के तुरंत बाद ऑपरेशन पॉयथन लॉन्‍च कर दिया गया, जिससे पाकिस्‍तानी नौसेना की कमर तोड़ दी गई।

ऑपरेशन ट्राइडेंट में पाकिस्‍तान ने एक मिनीस्‍वीपर, एक डिस्‍ट्रॉयर, एक कार्गो जिसमें गोला-बारूद था, और कराची के ईंधन संग्रह करने वाले जहांज खो दिए थे। एक और डिस्‍ट्रॉयर को बुरी तरह तबाह कर दिया गया, बाद में उसे स्‍कैप करना पड़ा। भारतीय नौसेना इस ऑपरेशन की याद में हर साल 4 दिसंबर नेवी डे मनाती है।

सोशल मीडिया पर #NavyDay सुबह से ही ट्रेंड कर रहा है। देशवासियों ने नेवी को सलाम करते हुए एक से एक पोस्‍ट किए हैं। केंद्रीय मंत्रियों वे राजनेताओं ने भी नौसेना दिवस पर बधाई दी है।

“सेना के लिए दान पूरी तरह स्वैच्छिक है, कोई दबाव नहीं”: मनोहर पार्रिकर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Abu talib
    Dec 4, 2016 at 1:55 pm
    जी हाँ लोकतंत्र में अपना और अपनी पार्टी का हित देश के हित से बड़ा होता है !
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग