June 26, 2017

ताज़ा खबर
 

हाई कोर्ट को भी ठीक नहीं लगता नवजोत सिंह सिद्धू का टीवी पर आना, अंतिम फैसला जल्द

एडवोकेट जनरल ने बताया था कि अगर सिद्धू 'द कपिल शो' में काम करना जारी रखते हैं तो इसमें न तो संविधान का और न ही जनप्रतिनिधित्व कानून, 1951 का उल्लंघन हुआ है।

सिद्धूके काम करने को लेकर अंतिम फैसला जल्द होगा। (Express photo by Jaipal Singh)

पंजाब की कैप्टन सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के पद पर रहते हुए कॉमेडी शो में काम करने को लेकर पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने शुक्रवार को टिप्पणी की। कोर्ट ने कहा कि सैद्धांतिक रूप से नवजोत सिंह सिद्धू को कॉमेडी शो में काम करना जारी नहीं रखना चाहिए। दो सदस्यीय खंडपीठ ने कहा कि सब कुछ कानूनी तौर पर नहीं देखा जा सकता। सिर्फ कानून की सबकुछ नहीं है। कुछ चीजें नैतिकता और शुचिता पर भी आधारित होती है। हाई कोर्ट ने यह टिप्पणी वकील एचसी अरोरा द्वारा दायर की गई जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान कही। याचिका में कोर्ट से नोटिस जारी करने की अपील की गई थी। हालांकि, हाई कोर्ट ने इस स्तर पर राज्य सरकार को नोटिस जारी नहीं किया।

क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा मंत्री पद संभालने के बावजूद कॉमेडी शो में काम करना जारी रखने के खिलाफ वकील एचसी अरोड़ा ने हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। अरोड़ा की ओर से सिद्धू के कॉमेडी शो में काम करने पर रोक लगाने की अपील की गई है। अदालत ने इस मामले की सुनवाई की अगली तारीख 11 मई तय की है। पंजाब सरकार के एडवोकेट जनरल ने अतुल नंदा की ओर से कोर्ट में कहा गया कि हम इस मामले पर गंभीरता से विचार करेंगे।

सिद्घू के कॉमेडी शो में काम करने को लेकर उठे विवाद के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले में कानूनी राय मांगी थी जिस पर एडवोकेट जनरल ने बताया था कि अगर सिद्धू ‘द कपिल शो’ में काम करना जारी रखते हैं तो इसमें न तो संविधान का और न ही जनप्रतिनिधित्व कानून, 1951 का उल्लंघन हुआ है।

गौरतलब है कि कॉमेडी शो में काम करने को लेकर उठे विवाद के बाद सिद्धू ने कहा था कि “अगर मुझे समस्या नहीं है तो आप लोग क्यों चिंता कर रहे हो। अगर मुझे शो करना होगा तो मैं यहां (पंजाब) से 3 बजे निकलूंगा और सुबह किसी के भी उठने से पहले वापस आ जाऊंगा।” सिद्धू ने पंजाब विधानसभा चुनाव 2017 से कुछ वक्त पहले ही कांग्रेस पार्टी ज्वॉइन की थी। इससे पहले तक वह बीजेपी से सांसद थे। पंजाब में मिली जीत के बाद कांग्रेस नेता और अब पंजाब के मुख्यमंत्री बने अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू को अपनी कैबिनेट में शामिल किया है। सिद्धू को स्थानीय प्रशासन और पर्यटन विभाग का प्रभार सौंपा गया है। इसके अलावा उनको कला-संस्कृति, पुरातत्व एवं संग्रहालयों का भी काम-काज दिया गया है।

 

टीवी में काम करने पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा- "3 बजे यहां से निकलूंगा, किसी के भी जागने से पहले वापिस आ जाऊंगा"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 8, 2017 10:04 am

  1. M
    madan gupta
    Apr 8, 2017 at 10:52 am
    Choose money or minister. First he negotiated with AAP, then with Congress. Now as minister he want to serve public or make money. He appointed his wife as PS.
    Reply
    सबरंग