ताज़ा खबर
 

नेशनल हेराल्ड केस: दिल्‍ली हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गए सोनिया और राहुल गांधी

उच्च न्यायालय ने सात दिसंबर के अपने आदेश में नेशनल हेराल्ड मामले में अदालत द्वारा जारी समन को निरस्त करने से इंकार कर दिया था।
Author नई दिल्ली | February 4, 2016 14:24 pm
national Herald Case: सोनिया और राहुल गांधी के साथ ही सुमन दुबे और सैम पित्रोदा ने भी उच्च न्यायालय के आदेश को शीर्ष अदालत में चुनौती दी थी। (Express Photo: Toshi Tobgyal)

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नेशनल हेराल्‍ड मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले को आज उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी। उच्च न्यायालय ने सात दिसंबर के अपने आदेश में नेशनल हेराल्ड मामले में अदालत द्वारा जारी समन को निरस्त करने से इंकार कर दिया था। सोनिया और राहुल गांधी के साथ ही सुमन दुबे और सैम पित्रोदा ने भी उच्च न्यायालय के आदेश को शीर्ष अदालत में चुनौती दी है।

Read Alsoमोदी के Digital India पर राहुल गांधी का हमला और नेट न्यूट्रिलिटी को लेकर किया कांग्रेस का गुणगान

उच्च न्यायालय ने पिछले साल सात दिसंबर को कांग्रेस नेताओं को जारी समन निरस्त करने से इंकार करने के साथ ही इस प्रकाशन का नियंत्रण अपने हाथ में लेने के उनके ‘संदेहास्पद आचरण’ पर भी तीखी टिप्पणियां की थी। इसके बाद सोनिया गांधी, राहुल गांधी और अन्य पिछले साल 19 दिसंबर को पटियाला हाउस अदालत में पेश हुए थे। अदालत ने इन सभी को जमानत देते हुए टिप्पणी की थी कि उन सभी की राजनीति में गहरी पैठ है और उनके भागने की संभावना नहीं है। मजिस्ट्रेट ने इसके बाद इस मामले की सुनवाई 20 फरवरी के लिये सूचीबद्ध कर दी थी। यदि शीर्ष अदालत से उन्हें कोई राहत नहीं मिली तो उन सभी को 20 फरवरी को फिर अदालत में पेश होना पड़ेगा।

Read Alsoइटेलियन मरीन की रिहाई के बदले सोनिया के खिलाफ सबूत मांगने की रिपोर्ट पर सफाई दें PM: कांग्रेस

इससे पहले, उच्च न्यायालय ने उनके खिलाफ जारी समन निरस्त करने से इंकार करते हुए कहा था, ‘याचिकाकर्ताओं के संदेहास्पद आचरण की आरोप निर्धारित करने के चरण में सच्चाई का पता लगाने के लिये उचित तरीके से जांच की आवश्यकता है। इसलिए प्रारंभिक चरण में आपराधिक कार्यवाही को विफल नहीं किया जा सकता है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग