ताज़ा खबर
 

नेशनल हेराल्‍ड केस: सोनिया-राहुल गांधी को आसानी से बेल, पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर होगी FIR

नेशनल हेराल्‍ड केस में कांग्रेस के लिए मुश्किलें कम नहीं हुई हैं। हरियाणा सरकार ने राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री और वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा समेत चार लोगों के खिलाफ नेशनल हेराल्‍ड के पब्लिशर को पंचकूला में प्‍लॉट देने के मामले में एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं।
Author चंडीगढ़ | December 19, 2015 20:00 pm
एसोसिएटेड जर्नल्‍स लिमिटेड की पंचकूला स्थित यह प्रॉपर्टी इस समय खाली पड़ी है।

नेशनल हेराल्‍ड केस में दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट से शनिवार को भले ही कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को आसानी से जमानत मिल गई हो, लेकिन पार्टी के लिए मुश्किलें कम नहीं हुई हैं। शनिवार को जिस वक्‍त पार्टी के कार्यकर्ता सोनिया और राहुल गांधी के समर्थन में दिल्‍ली में डेरा डाले हुए थे, उसी दिन हरियाणा सरकार ने एक ऑर्डर जारी कर रही थी। इसके मुताबिक, राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री और वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा समेत चार लोगों के खिलाफ नेशनल हेराल्‍ड के पब्लिशर एसोसिएटेड जर्नल्‍स लिमिटेड (AJL) को पंचकूला में प्‍लॉट देने के मामले में एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। इतना ही नहीं, सरकार ने इस मामले की आगे की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश भी की गई है। यह जानकारी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के ओएसडी जवाहर यादव ने दी। उनके मुताबिक, विजिलेंस डिपार्टमेंट की जांच के बाद सीएम ने इस मामले में ऑर्डर जारी किए हैं। इस केस में पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा, पूर्व आईएएस डीपीएस नवल और हरियाणा अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी के दो ऑफिसर एससी. कांसल व बीबी. तनेजा के खिलाफ केस दर्ज किया जाना है।

इस मामले का खुलासा कुछ दिनों पहले ‘इंडियन एक्‍सप्रेस’ ने किया था। भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार के शासनकाल में नेशनल हेराल्‍ड अखबार के पब्लिशर एसोसिएटेड जर्नल्‍स लिमिटेड (AJL) को पंचकूला सेक्‍टर 6 में 3,360 स्‍क्‍वायर मीटर का प्‍लॉट अलॉट किए जाने के मामले की हरियाणा सरकार जांच कराएगी। प्रदेश के वित्‍त मंत्री अनिल विज ने इसे बेहद गंभीर मामला बताया है। उन्‍होंने कहा, ‘AJL को बेहद कम कीमत पर जमीन अलॉट की गई थी। बाद में हुड्डा के बेटे इसी कंपनी में एडिश्‍नल डायरेक्‍टर बनाए गए। इसमें जनता का पैसा लगा है, ऐसे में हरियाणा सरकार मामले की जांच कराएगी।’ AJL को 2005 में प्‍लॉट अलॉट किए जाने के मामले का खुलासा ‘इंडियन एक्‍सप्रेस’ ने किया था, जिसके बाद अनिल विज की प्रतिक्रिया आई है।

क्‍या है पूरा मामला

AJL को भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार ने 2005 में 3,360 स्‍क्‍वायर मीटर का एक प्‍लॉट पंचकूला में अलॉट किया था। उस वक्‍त उन्‍हें हरियाणा का सीएम बने हुए छह महीने ही हुए थे। इतना ही नहीं, 2014 लोकसभा चुनाव से ठीक दो महीने पहले अगस्‍त में हुड्डा सरकार ने इस प्‍लॉट पर बनी चार मंजिला इमारत को ऑक्‍यूपेशन सर्टिफिकेट भी जारी किया था। हरियाणा अर्बन डिवेलपमेंट अथॉरिटी (HUDA) के दस्‍तावेज इसकी तस्‍दीक करते हैं।

AJL को पंचकूला के सेक्‍टर 6 में प्‍लॉट एलॉट किया गया था। वो भी हरियाणा पुलिस हेडक्‍वार्टर ठीक के सामने। HUDA के रिकॉर्ड में AJL को दिया गया प्‍लॉट ‘गर्वनमेंट ऑफिस’ कैटेगरी में दर्ज है। अथॉरिटी के मुताबिक, अलॉट किए जाने वक्‍त इस प्रॉपर्टी की वेल्‍यू 59.3 लाख थी।

नाम न बताने की शर्त पर HUDA के एक अधिकारी ने ‘इंडियन एक्‍सप्रेस’ को बताया कि AJL ने प्‍लॉट के अलॉटमेंट के लिए एप्‍लीकेशन दी थी, जिसे अथॉरिटी ने मंजूर कर लिया था। इस प्‍लॉट हर प्रकार का भुगतान M/s Associated Journals Limited ने किया था।

Read Also:

हेराल्‍ड केस: सोनिया-राहुल गांधी को 5 मिनट में मिली बेल, कोर्ट से बाहर आते ही मोदी सरकार पर किए चुन-चुनकर हमले

सोनिया ही नहीं, इंदिरा गांधी से भी टकरा चुके हैं सुब्रमण्‍यम स्‍वामी, जानिए कई और खास बातें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. R
    RKN
    Dec 19, 2015 at 12:26 pm
    अबकी दो मिनिट में बैल हो जाएगी ,क्या उखड लेगी सरकार एंड सीबीआई , भ्रस्टाचार करना हमारा अधिकार ,इसको कोई हमसे नहीं छीन सकता :- अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी
    (0)(0)
    Reply