ताज़ा खबर
 

नासा ने जारी की अंतरिक्ष से ली गई भारत की तस्वीर, रात में किसी जन्नत की तरह नजर आता है हिंदुस्तान

ये तस्वीरें नासा-नोआ सुओमी नेशनल पोलर-ऑरबिटिंग पार्टनरशिप सैटेलाइट पर लगे विज़िबल इन्फ्रारेड इमेजिंग रेडियोमीटर सुइट (VIIRS) से मिले डाटा का नतीजा हैं।
तस्वीर को नासा ने जारी किया है।

अमेरिकी एजेंसी नासा ने भारत की एक तस्वीर जारी की है। ये तस्वीर 2016 में अंतरिक्ष से खींची गई है। नासा ने नाइट लाइट्स नाम से तस्वीरों की एक सीरीज निकाली है। इस सीरीज में नासा ने दिखाया है कि रात में हमारी पृथ्वी कैसी नजर आती है। साल 2012 ने नासा ने तस्वीरों की ये सीरीज़ नाइटल लाइट्स की पहली तस्वीर जारी की थी। नासा की कोशिश है कि अगर इन तस्वीरों को और तेजी से अपडेट किया जाए तो मौसम विभाग को काफी मदद मिल सकती है। 2012 में भी नासा ने हिंदुस्तान की तस्वीर जारी की थी और इस बार भी जारी की है। दोनों तस्वीरों में बहुत ज्यादा असमानता तो नहीं है लेकिन हां थोड़ा बहुत बदलाव जरूर है। तस्वीर में रोशनी से जगमगाता हुआ भारत नजर आ रहा है। तस्वीरों में जगमगाते हिंदुस्तान को देख हर हिंदुस्तानी की आंखों में चमक आना लाजमी है।

ये है साल 2012 में ली गई तस्वीर:

यो है 2012 में खींची गई तस्वीर:

ये कम्पोज़िट तस्वीरें नासा-नोआ (NASA-NOAA) सुओमी नेशनल पोलर-ऑरबिटिंग पार्टनरशिप सैटेलाइट पर लगे विज़िबल इन्फ्रारेड इमेजिंग रेडियोमीटर सुइट (वीआईआईआरएस) से मिले डाटा का नतीजा हैं। नासा के अनुसार, वीआईआईआरएस पहला ऐसा सैटेलाइट उपकरण है, जो प्रकाश के उतसर्जन तथा परछाइयों का सही आकलन कर सकता है, ताकि शोधकर्ताओं को रात के समय दिखने वाली रोशनी के स्रोतों की सही जानकारी मिल सके।

VIDEO: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव 2016: नासा के इस एस्ट्रोनॉट ने अंतरिक्ष से डाला वोट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. Sidheswar Misra
    Apr 14, 2017 at 12:59 pm
    दोनों तस्बीर में अंतर यह है की पूर्वी उतर प्रदेश और उससे लगे बिहार में २०१२ से २०१६ में बिजली की जगमाहट ज्यादा है।
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग