ताज़ा खबर
 

‘दाऊद के बारे में सरकार के बयान से भारत की छवि हुई खराब’

कांग्रेस ने आज आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने यह कहकर देश की छवि को नुकसान पहुंचाया है कि उसे दाऊद इब्राहिम के ठिकाने के बारे में जानकारी नहीं है जबकि पूर्व की सभी सरकारें...
Author May 6, 2015 16:07 pm
विपक्षी दलों ने इस बारे में गृह मंत्री से स्पष्टीकरण देने की मांग की। हालांकि सरकार की ओर से कहा गया कि दाऊद पाकिस्तान में ही है। (फ़ोटो-पीटीआई)

कांग्रेस ने आज आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने यह कहकर देश की छवि को नुकसान पहुंचाया है कि उसे दाऊद इब्राहिम के ठिकाने के बारे में जानकारी नहीं है जबकि पूर्व की सभी सरकारें इस बात पर कायम रही थीं कि यह अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी पाकिस्तान में है।

विपक्षी दलों ने इस बारे में गृह मंत्री से स्पष्टीकरण देने की मांग की। हालांकि सरकार की ओर से कहा गया कि दाऊद पाकिस्तान में ही है।

राज्यसभा में आज शून्यकाल में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि 1993 के मुंबई बम विस्फोटों की जांच में यह पाया गया था कि दाऊद दोषी है। उन्होंने कहा कि पिछले 20-22 साल में, भले ही वह अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार हो या कांग्रेस सरकार, सभी का राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मंचों पर यह रुख रहा है कि दाऊद पाकिस्तान में है।

उल्लेखनीय है कि कल लोकसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में केन्द्र ने कहा था कि सरकार को दाऊद के ठिकाने के बारे में जानकारी नहीं है और उसका पता लगने के बाद ही उसके प्रत्यर्पण की कार्रवाई शुरू की जायेगी। बहरहाल, गृह मंत्री किरण रिजिजू ने सदन के बाहर कहा कि दाऊद पाकिस्तान में ही है और केन्द्र सरकार इस मामले को बहुत गंभीरता से आगे बढ़ा रही है।

आजाद ने कहा, ‘‘हमारी खुफिया एजेंसियों को उसके आवास एवं ठिकाने की जानकारी है। हम उम्मीद करते हैं कि इस सरकार में भी यही (समान रुख) होगा। हमें बेहद दुख है कि सरकार के इस बयान से कि ‘सरकार को दाऊद के ठिकाने की जानकारी नहीं है’’ , देश की छवि खराब हुई है।’’

आजाद ने कहा कि भारत ने कई अवसरों पर पाकिस्तान को आतंकवादी गतिविधियों में दाऊद की संलिप्तता के बारे में प्रमाण दिये हैं। उन्होंने इस मामले में गृह मंत्री से बयान देने की मांग की।

माकपा के सीताराम येचुरी ने भी इस मुद्दे पर गृह मंत्री से स्पष्टीकरण देने की मांग की। इस पर संसदीय कार्य राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि वह इस बारे में सदन की भावना से गृह मंत्री को अवगत करायेंगे और उनसे बयान देने का अनुरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि दाऊद भारत के लोगों का गुनाहगार है और वह पाकिस्तान में है। उन्होंने कहा कि वह एक आतंकवादी है।

मुंबई के 1993 श्रृंखलाबद्ध विस्फोट मामले में वांछित दाऊद का नाम भारत वर्ष 2000 की शुरुआत से ही पाकिस्तान को सौंपे जाने वाले लगभग सभी डोजियर में शामिल करता आया है।

दाऊद को अमेरिका ने वैश्विक आतंकवादी घोषित देते हुए कहा था कि उसके अल कायदा आतंकवादी समूह से भी संबंध हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.