March 29, 2017

ताज़ा खबर

 

पीएम मोदी बोले- भारत किसी की जमीन का भूखा नहीं, हमने कभी हमला नहीं किया

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय समुदाय इस तरफ योगदान दे सकता है।

बीजेपी की नए कार्यालय की आधारशिला कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी। (Photo Source: BJP Twitter Handle)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि भारत ने किसी देश पर हमला नहीं किया है और ना ही वह किसी की जमीन हड़पना चाहता है बल्कि उसके जवानों ने राष्ट्र हित तथा दूसरों के लिए लड़ते हुए बलिदान दिया है। मोदी ने यह टिप्पणी ऐसे समय की जब पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर मुद्दे को लेकर निरंतर आवाज उठा रहा है। प्रधानमंत्री ने प्रवासी भारतीय केन्द्र के उद्घाटन समारोह में कहा, ‘‘भारत ने किसी पर हमला नहीं किया। वह ना ही जमीन के लिए भूखा है। बल्कि दो विश्व युद्धों में (जिसमें भारत का सीधे तौर पर कुछ दांव पर नहीं था) डेढ लाख भारतीय सैनिकों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया।’’ मोदी ने कहा कि विदेश में मौजूद भारतीय समुदाय राजनीति में शामिल होने या विदेशी धरती पर सत्ता हथियाने में विश्वास नहीं रखता। बल्कि वे सामाजिक सदभाव के सिद्धांत का पालन करके अन्य समुदायों के साथ मिल जाते हैं। उन्होंने कहा कि भारी कीमत चुकाने के बावजूद देश विश्व को अपने बलिदान के महत्व का एहसास नहीं करा सका। उन्होंने कहा कि जब वह विदेश में जहां भी जाते हैं, वह भारतीय सैनिकों के स्मारकों पर यात्रा जरूर करते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय समुदाय इस तरफ योगदान दे सकता है। उन्होंने विदेश में बसे भारतीयों के बारे में कहा, ‘‘वे पानी की तरह हैं। वे जरूरत के अनुसार ढल जाते हैं।’’

सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद मोदी ने बुलाई अहम बैठक, देखें वीडियो:

गौरतलब है कि भारतीय सेना ने बुधवार की रात पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के भिंबेर, केल, लिपा और हॉटस्प्रिंग सेक्टर में आतंकियों के सात ठिकानों को ध्वस्त कर दिया था। रक्षा सूत्रों के मुताबिक नियंत्रण रेखा पर अभी भी हाई अलर्ट है और सेना के जवान किसी भी तरह की कार्रवाई का जवाब देने के लिए तैयार हैं। पाकिस्तान ने भारत द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने से इनकार किया है। एक पाकिस्तानी अखबार ने नियंत्रण रेखा के करीब तैनात पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों से हुई कथित बातचीत के आधार पर भारत के दावों पर सवाल खड़ा किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 2, 2016 2:43 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग