December 02, 2016

ताज़ा खबर

 

नाना पाटेकर नोटबंदी पर नरेंद्र मोदी के साथ, कहा- इतना कुछ सहा है, क्या 10-20 दिन की तकलीफ नहीं सह सकते

केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले का अभिनेता नाना पाटेकर ने समर्थन करते हुए कहा है कि यह एक अच्छा कदम है।

शहीद स्मारक पर जवानों को सेल्यूट करते नाना पाटेकर। (Source: PTI)

केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले का समर्थन करते हुए अभिनेता नाना पाटेकर ने नरेंद्र मोदी सरकार के फैसले का बचाव किया है। नाना पाटेकर आज जम्मू के हीरानगर और कठुआ क्षेत्र में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों से मुलाकात करने गए थे। उन्होंने जवानों के साथ काफी समय बिताया और कहा कि इन बीएसएफ जवानों से मिलना मेरे लिए सौभाग्य है।

वहीं नाना पाटेकर ने नोटबंदी के फैसले पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी। नोटबंदी के फैसले का उन्होंने बचाव किया और कहा कि सरकार ने यह एक अच्छा कदम उठाया है और हम लोग देश के लिए थोड़ी सी परेशानी तो झेल सकते हैं। उन्होंने आगे कहा कि इतने सालों से हम कितना कुछ सह रहे हैं तो क्या ये 10-20 दिन की तकलीफ नहीं सह सकते।

नाना पाटेकर ने सीधे तौर पर नोटबंदी के फैसले का बचाव किया और इस अच्छा फैसला बताया। 65 साल के अभिनेता ने और भी कई बातें कही। उन्होंने बीएसएफ जवानों की तारीफ करते हुए कहा “न ईद है न दिवाली है न होली, इन जवानों को देखिए कितने खुश है, ये छुट्टियां
भी नहीं चाहते”।

शहीद गुरनाम सिंह के परिवार वालों से मिलते हुए नाना पाटेकर। (Source: PTI) शहीद गुरनाम सिंह के परिवार वालों से मिलते हुए नाना पाटेकर। (Source: PTI)

इसके बाद मीडिया द्वारा जवानों की हौसला अफजाई करने के सवाल पर नाना पाटेकर ने जवाब दिया कि भला वह उन जवानों की हौसला अफजाई करने की जुर्रत कैसे कर सकते हैं जिनसे वह खुद जीने की प्रेरणा पाते हैं। अपनी बात पूरी करते हुए नाना पाटेकर ने कश्मीर के बच्चों से पत्थर के बजाए किताब उठाने की भी अपील करते हैं।

इसके अलावा नाना पाटेकर ने शहीद स्मारक पर जवानों को श्रद्धांजलि दी और शहीद गुरनाम सिंह के परिवार से भी मिले। गुरनाम जम्मू और कश्मीर के कठुआ सेक्टर में आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हुए थे।

 

वीडियो:पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में काम करने पर बोले नाना पाटेकर, कहा- ‘कलाकार देश के सामने खटमल की तरह’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 16, 2016 6:59 pm

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग