ताज़ा खबर
 

जाकिर नाइक के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, बार-बार तलब किए जाने के बावजूद नहीं हुए थे पेश

51 वर्षीय जाकिर नाइक पर प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्‍ट के तहत की गई इस कार्रवाई में 18.37 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच करने की बात सामने आई है।
विवादित धर्मगुरु जाकिर नाईक। (File Photo)

प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत मामलों की सुनवाई करने वाली मुंबई की एक विशेष अदालत ने मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में गुरुवार को विवादित इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। ईडी ने नाइक के खिलाफ गैर जमानती वारंट की मांग करते हुए कहा था कि उपदेशक अब तक जांच में शामिल नहीं हुए हैं। इस हफ्ते की शुरुआत में अदालत का रूख करने वाली केंद्रीय जांच एजेंसी ने कहा था कि बार-बार तलब किए जाने के बावजूद नाइक उसके सामने पेश नहीं हुए। ईडी ने कहा कि नाइक से मनी लॉन्ड्रिंग के सिलसिले में पूछताछ करने की जरूरत है।

एजेंसी ने गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की शिकायत का संज्ञान करते हुए नाइक और अन्य के खिलाफ पिछले साल दिसंबर में एक आपराधिक मामला दर्ज किया था। ईडी मामले में आरोपी द्वारा शोधित कथित धनराशि के आरोपों और इस तरह पैदा हुई आपराधिक आय की जांच कर रही है। एनआईए ने इसके बाद गैरकानूनी गतिविधियां अधिनियम के तहत धर्म और नस्ल के आधार पर नफरत फैलाने के लिए नाइक के खिलाफ मामला दर्ज किया था और नाइक के आवास, उनके टेलीविजन चैनल पीस टीवी के कार्यालय सहित दर्जनों ठिकानों पर छापेमारी की थी।

इसके अलावा नाइक के गैर सरकारी संगठन के बैंक खाते भी सीज कर दिए गए। बता दें कि 51 वर्षीय जाकिर नाइक पर प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्‍ट के तहत की गई इस कार्रवाई में 18.37 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच करने की बात सामने आई है। पिछले वर्ष एक जुलाई को बांग्लादेश की राजधानी ढाका के एक पॉश रेस्तरां में हुए आतंकवादी हमले की जांच के दौरान नाइक पहली बार जांच के घेरे में आए थे। ढाका हमले में शामिल एक आतंकवादी कथित तौर पर नाइक के भाषणों से प्रेरित होकर आतंकवादी बना था।

राहुल गांधी का मजाक उड़ाने की कोशिश में फल ही बदल गए पीएम नरेंद्र मोदी, अनानास की जगह नारियल का कर बैठे जिक्र, देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग