ताज़ा खबर
 

मुंबई हमले में बचे बच्चे से मुलाकात: मोशे ने कहा- डियर मिस्टर मोदी, आई लव यू; पीएम बोले-जब चाहो तब भारत आओ

मोशे के दादा रब्बी शिमोन ने कहा कि ये एक अच्छा एहसास है कि भारत के लोग हमें भूले नहीं है और मुंबई हमले के 9 साल बाद भी हमारा दर्द साझा करते हैं।
येरुशलम में पीएम मोदी ने इजरायली बच्चे मोशे से मुलाकात की (Photo-ANI)

2008 के मुंबई आंतकी हमले में जिंदा बचा भाग्यशाली इजरायली बच्चा मोशे होल्टजबर्ग से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज (5 जुलाई) मुलाकात की। दोनों के बीच इजरायल के जेरुशलम में गर्मजोशी से मुलाकात हुई। मोशे ने पीएम की तारीफ की और उन्हें आई लव यू कहा। पीएम मोदी ने मोशे को भारत आने का न्यौता दिया जिसे मोशे ने तुरंत स्वीकार कर लिया। पीएम मोदी ने मोशे से कहा कि आपको जब भी इंडिया आना हो आ जाओ, हम आपको तुरंत वीजा उपलब्ध कराएंगे। मोशे ने कहा कि उसे बड़ा होकर मुंबई स्थित छाबड़ हाउस का निदेशक बनना है। छाबड़ हाउस में ही मोशे के माता-पिता की आतंकियों ने हत्या कर दी थी। बेबी मोशे 26/11 आतंकी हमले से जुड़ा एक जाना-पहचाना नाम बन चुका है। लोग उसे मानवता के खिलाफ इस जघन्यतम हमले के एक प्रतीक के तौर पर देखते हैं। मोशे इजरायल के अफूला शहर में अपने दादा रब्बी शिमोन रोसेनबर्ग और दादी येहूदित रोसेनबर्ग के साथ रहता है। पीएम मोदी से मुलाकात के लिए ये सभी जेरुशलम आए हुए हैं। मोशे के दादा ने जेरुशलम से फोन पर बताया कि मोशे भावुक है, हम सभी भावुक हैं, उन्होंने कहा वे पीएम मोदी की इजरायल यात्रा और हमसे मुलाकात के उनके फैसले को बहुत महत्व देते हैं।

बता दें कि 26 नवंबर 2008 की काली रात को मोशे अपने मम्मी-पापा रब्बी गवेरियल और रिवका होल्टजबर्ग के साथ मुंबई के छाबड़ हाउस में मौजूद था। इस छाबड़ हाउस को नरीमन हाउस भी कहते हैं। इस समय पाकिस्तान के लश्कर आतंकियों ने इस बिल्डिंग पर हमला कर कई लोगों को मौत के घाट सुला दिया। इसमें मोशे के मम्मी-पापा भी शामिल थे। मासूम मोशे अपने मम्मी-पापा के लाश के पास खड़ा रो रहा था तभी उसकी आया सैन्ड्रा ने मोशे की आवाज सुनी और उसे लेकर सुरक्षित स्थान पर चली गई। इस हमले में मोशे तो बच गया लेकिन वो अनाथ हो चुका था। लेकिन भारत से इस बच्चे को भरपूर प्यार मिला और ये बच्चा आतंक के खिलाफ भारत की जंग में एक चेहरा बना।

मोशे के दादा रब्बी शिमोन बताते हैं कि भारत ने मोशे और हमें बहुत प्यार दिया है, भगवान भारत और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आशीर्वाद दे। उन्होंने कहा कि ये एक अच्छा एहसास है कि भारत के लोग हमें भूले नहीं है और मुंबई हमले के 9 साल बाद भी हमारा दर्द साझा करते हैं। पीएम की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि 125 करोड़ लोगों की अगुवाई करने वाला शख्स हम लोगों से मिल रहा है ये बेहद ही अहम बात है। जब उनसे पूछा गया कि क्या मोशे को नरीमन हाउस की घटना जरा सा भी याद है, उनके दादा ने बताया कि वो इस हमले पर ज्यादा बात नहीं करता है, लेकिन कहता है कि छाबड़ हाउस उसका घर है। मोशे के दादा ने बताया कि वो दो साल बाद मुंबई के छाबड़ हाउस का दौरा करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग